नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है हमारा इस लेख में आशा करता हूं आप बिल्कुल ठीक होंगे दोस्तों आज के इस आर्टिकल के मदद से हम Eid- Ul- Fitr क्या है और Eid- Ul- Fitr को कैसे मनाया जाता है बारे में संपूर्ण जानकारी पूरे विस्तार से प्राप्त करने वाले हैं और उसके बारे में जानने भी वाले हैं। आपको मालूम ही होगा कि हमारे देश भारत में कई ऐसे बड़े बड़े पर्व त्यौहार आते रहते हैं और जाते रहते हैं उन्ही बड़े-बड़े पर्व त्योहारों में से एक पर्व ईद उल-फितर भी है।

इस त्यौहार को खास करके मुस्लिम समुदाय के लोग बड़े धूमधाम से मनाते हैं यह त्यौहार वाकई में धूमधाम से मनाने वाला त्यौहार है मगर कई सारे लोग ऐसे भी हैं जो इस त्यौहार के बारे में  तनिक भी नहीं जानते हैं और कुछ लोग ऐसे हैं जो इसके ऐतिहासिक और पुरानी कथाओं के बारे में जानना चाहते हैं कि ईद उल-फितर को क्यों मनाया जाता है और इसे कैसे मनाया जाता है। तो हम सभी ने मिलकर इन सभी लोगों का इस सवाल का जवाब देने के लिए इस लेख को स्टेप बाई स्टेप करके पूरे विस्तार से लिखा है।

Ramadan Festival In Hindi | रमज़ान 2022 का महत्व, निबंध, इतिहास

इस लेख में हम ने बताया है कि ईद उल-फितर क्या है और ईद उल-फितर को क्यों मनाया जाता है और Eid- Ul- Fitr का इतिहास क्या रहा है और Eid- Ul- Fitr के मनाने का उद्देश्य क्या है इन सभी चीजों के बारे में हमने लिखा है।

अगर आपको ईद उल-फितर के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करनी है तो कृपया करके आप हमारे इस लेख को ध्यान से पूरे अंत तक पढ़े तभी आपको हमारा यह लेख समझ में आएगा तो चलिए शुरू करते हैं इसलिए लेख को बिना देरी किए हुए।

Ganesh Chaturthi क्या है और Ganesh Chaturthi को क्यों मनाया जाता है ?

Eid Mubarak Wishes| Happy Eid-ul-Fitr 2021: Eid Mubarak Wishes, Messages,  Quotes, Images, Photos, Greetings, WhatsApp Messages and Facebook Status

Eid- Ul- Fitr क्या है ?

दोस्तों अगर आपके मन में यह ख्याल है कि आखिर Eid- Ul- Fitr क्या है तो और आप ईद उल-फितर के बारे में जानना चाहते हैं तो आप हमारे इस टॉपिक के साथ पूरे अंत तक बनी रहे क्योंकि हम इस टॉपिक में बात करने वाले हैं कि ईद उल-फितर क्या है और आपको ईद उल-फितर के बारे में और सम्पूर्ण जानकारी भी देंगे तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए और जानते हैं कि ईद उल-फितर क्या है।

हम आपके जानकारी के लिए बता दे कि Eid- Ul- Fitr एक त्योहार है जिसे मुस्लिम समुदाय के लोग बहुत धूमधाम से मनाते है। रमजान के तुरंत खत्म होने पर, ही चाँद के दीदार के बाद यह पवित्र और सुहाना दिन आता है। मुस्लिम धर्म के कैलेंडर के अनुसार  से यह त्योहार दसवे महीने यानी कि अक्टूबर में आता है।

दोस्तों क्या आपको मालूम है कि इस महीने को मुस्लिम धर्म के लोगों के अनुसार शव्वाल भी कहां जाता है, और इसके शुरुवाती के दिन ही यह त्यौहार होता है, जो कि लगभग तीन दिनों तक बड़े आंनद से साथ मनाया जाता है।

क्या आपको मालूम है कि रमजान के पुरे महीने में बहुत ही कठिन उपवास रखने और व्रत रखने के बाद जब मुस्लिम भाइयो को चाँद दिखाई देता है तो हर किसी के मन में एक उत्साह और ख़ुशी की लहर दौड़ जाती है और सभी मुस्लिम भाइयो के चेहरे पर रौनक होती है।

आमतौर पर इन दिनों मुस्लिम भाइयो सुबह जल्दी ही उठ कर के और स्नान कर नए कपडे नए वस्त्र को धारण करते है और वो तहे दिल से नमाज अदा भी करते है और उनके घर मे काफी बेहतरीन तरह से सजावट भी की जाती है। और वे सभी लोग काफी धूम धाम से इस त्योहार को मानते भी है।

Independence day क्या है और Independence day को क्यों मनाया जाता है?

Eid- Ul- Fitr कब और क्यों मनाया जाता है (Why do Muslims fast during the month of Ramzan (Ramadan) in Hindi

Eid ul Fitr in the United Kingdom

दोस्तों जैसा कि हमने ऊपर के टॉपिक में आपको विस्तार से बताया कि ईद उल-फितर क्या होता है तो यह जानने के बाद आपके मन में यह ख्याल जरूर आया होगा कि आखिर ईद उल-फितर कब और क्यों मनाया जाता है क्योंकि ढेर सारे लोग ऐसे हैं जो जानना चाहते हैं कि Eid- Ul- Fitr क्यों मनाया जाता है तो हम सभी ने इस टॉपिक में इसके बारे में बताया है तो आप हमारे इसलिए के साथ बने रहे तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को

मुस्लिम धर्म के केलेंडर के अनुसार नोवे महीने यानी कि सितंबर ही रमजान का महिना माना जाता है। अगर हम इस साल Eid- Ul- Fitr का त्यौहार कब मनाया जाएगा इसके बारे में बात करे तो  2022 में 2 मई की शाम से 3 मई तक Eid- Ul- Fitr का त्यौहार मनाया जायेगा। मुस्लिम समुदाय के लोग इसे बहुत ही पवित्र त्योहार के रुप मे मानते हुए इसमें अपने इतिहास से चले आ रही सारे नियमों का पालन बड़े ही बेहतरीन ढंग से करते है।

इस त्योहार के बारे में ऐसा माना जाता है रमजान के महीने में जो लोग रोजा रखते है आत्मा को शुद्ध और मोक्ष  की प्राप्ति होती है, और रोजा रखने वालोँ लगभग सभी लोगो  के लिए जन्नत के दरवाजें खुदा खुद खुलते है।

क्या आपको मालूम है कि इस महीने में लगभग सभी मुस्लिम भाई एक नियमित तरह से अपने जीवन को जीते है और नमाज कर के खुदा से आगे से आगे के अच्छे दिन के लिए प्रर्थना करते है। और यह रमजान का लगभग 30 दिनों का महीना को 3 हिसा कर के बराबर भागों में बाटते है, प्रत्येक भाग में लगभग 10 दिन शामिल है।

हम आपके बेहतर जानकारी के लिए बता दे कि रमजान का महिना सिर्फ इबादत के लिए ही नही होता है, बल्कि अपनी सभी तरह के बुरी आदतों को  अपने काबू में करना भी सिखाता है और हर तरह कर कष्ट में खुदा अपने बच्चों की मदद जरूर करते है।

आपको मालूम ही होगा कि इस पवित्र महीने में लगभग सभी मुस्लिम भाई उपवास रखते है जिसे वो इस उपवास को रोजा कहते है , इस महीने में लगभग सभी मुस्लिम समुदाय के  लोग सूर्योदय के पूर्व में अच्छे अच्छे आहार लेते है और ज्यो ही सूर्योदय  होता है उस से सूर्यास्त तक बिना किसी अन्न जल को ग्रहण भी नही करते है, वो लोग अब सूर्यास्त के बाद ही किसी भी आहार और पानी ग्रहण करते है।

दोस्तों मुस्लिम भाइयो का मानना है कि रमजान में रोजा की शुरुआत हो जाने पर खाना खाने की तो दूर इसके बारे में बात करना और खाना का विचार करना भी पाप होता है। क्या आपको मालूम है कि रोजा इख्तयार कर अगर कोई भी बन्दा झूठ बोलता है या किसी को गाली देता है , तो उसका रोज़ा उसी वक़्त टूट जाता है।

दोस्तों मुस्लिम भाइयो का मानना है रमजान का महीना में त्याग और बलिदान का माह भी माना जाता है इस महिने में कई सारे लोग दान पुण्य भी करते है, जो भी इस महीने में अच्छे कार्य किए जाते है, उसका कही ज्यदा गुना पुण्य उन लोगो के जीवन मे प्राप्त होता है। ऐसा नहीं है कि सिर्फ मुस्लिम भाई इसी महीने में दान पूर्ण और अच्छे काम करते हैं वह लोग तो हमेशा अच्छे काम करते हैं।

इस पावन और पवित्र महीने में शराब का सेवन करना पूरे तरह से वर्जित होता है। और इस पावन और पवित्र महीने में किसी भी तरह का शारीरिक सम्बन्ध बनाना और किसी स्त्री पुरुष को किसी भी चीज़ पर गलत नजर से देखना भी मना है।

इस पावन और पवित्र महीने में हर मुस्लिम पवित्र और आदर्श जीवन जीता है और अच्छे काम करते है, सभी लोग कुरान पड़ते है और नमाज अदा करते है और सभी लोग मिल झूल कर के साथ रहते है।

यह त्योहार उनके आत्मसयंम और त्याग बलिदान की प्रेरणा देता है। जब कोई व्यक्ति रोजा कर के  अन्न जल को ग्रहण नही करता है तब उसे इस त्योहार का पवित्र महत्त्व पता चलता है। जब व्यक्ति इस तरह से त्याग करता है तो उपर की ओर  उठता है और उसकी आत्मा शुद्ध के साथ ही साथ पवित्र भी होती है।

Durga Puja क्या है और Durga Puja क्यो मनाया जाता है ?

Eid- Ul- Fitr का इतिहास (History of Eid Ul-Fitr)

दोस्तों जैसे कि हमने आपको ऊपर के टॉपिक में बताया कि ईद उल-फितर क्यों मनाया जाता है और Eid- Ul- Fitr क्या है यह सभी को जानने के बाद आपके मन में यह जरूर ख्याल आया होगा कि आखिर ईद उल-फितर के पीछे इतिहास क्या रहा है और ईद उल-फितर के ऐतिहासिक कथाओं के अनुसार इसका परिणाम क्या रहा है तो हमने आपको इस लेख में इसके बारे में इसके सभी इतिहास के बारे में संपूर्ण जानकारी दी है तो कृपया करके आप हमारे इस टॉपिक के साथ बने रहे तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को

दोस्तों हम आपके जानकारी के लिए बता दे कि इस्लाम धर्म में एक अच्छा और बेहतर इंसान होने के लिए सिर्फ इस्लाम धर्म का इंसान होना ही काफी नही है , इस धर्म में लगभग 5 नियमो का पालन करना पूर्ण रूप से अनिवार्य है – ईमान, हज की यात्रा , रोजा और जकात, नमाज अदा करना इस तरह से इन सभी नियमों को पालन भी किया जाता है।

अगर हम बात करे ईद उल-फितर का इतिहास का तो प्राचीन के समय अरब में पैगम्बर हजरत मोहम्मद ने अपने यहाँ देखा की हर व्यक्ति एक दुसरे से काफी दूर हो रहा है, और कोई किसी का मदद नही कर रहा है पूरा अरब गरीब और अमिर होकर के दो भागो में बट गया है , तब उस समय  सभी को एकजुट और एक दूसरे के साथ मिल झूल कर रहने  के लिए पैगम्बर हजरत मोहम्मद साहब ने एक खास तरह का विचार किया

और सभी को एक खास तरह के नियम का पालन करने को कहा, जिसका नाम उसने उस वक़्त रोजा रखा , उन्होंने यह ऐलान किया कि हम सभी पुरे दिन कुछ भी अन्न नही खाएगे और पानी या किसी भी चीज़ की एक बूंद भी ग्रहण नही करेगे ,  कोई भी किसी भी तरह का पकवान या मिठाई हो हमें उसका त्याग करना है।

उनका कहना था ऐसा करने से लगभग सभी लोगो में त्याग और बलिदान और एक दूसरे के प्रति की  भावना जाग्रत होगी , सभी लोगो को एक दुसरे के दुःख को महसूस किया जा सकेगा , और सभी के मन में सदभावना और शुद्धता आएगी।

उन्होंने ऐसा करने के लिए जकात उल फितर का एक रास्ता बताया, और उनका आदेश मान कर लगभग सभी लोगो ने इसका पालन किया इससे अपने से पिछड़े और गरीब लोगो को दान कर के उन्हें ढेर सारी मदद भी प्राप्त की।

Onam Festival in hindi | 2022 मे ओणम त्यौहार को कब मनाया जाएगा?

Eid- Ul- Fitr 2022 में कब और कैसे मानाते है (Eid Ul Fitr Date in Hindi) 

Eid-ul-Fitr 2021: 5 unique Eid traditions that are followed around the  world - Hindustan Times

जैसे कि हमने आपको ऊपर के टॉपिक में बताया कि Eid- Ul- Fitr इतिहास क्या रहा है इसको जानने के बाद आपके मन में ख्याल जरूर आया होगा कि आखिर ईद उल-फितर को 2022 में कब मनाया जाएगा तो चलिए जान लेते हैं कि ईद उल-फितर त्यौहार को 2022 में कब मनाया जाएगा और यह किस तारीख को पड़ता है।

अगर हम इस साल ईद उल-फितर का त्यौहार कब मनाया जाएगा इसके बारे में बात करे तो  2022 में 2 मई की शाम से 3 मई तक ईद उल-फितर का त्यौहार मनाया जायेगा रमजान के तुरंत खत्म होने पर, ही चाँद के दीदार के बाद यह पवित्र और सुहाना दिन आता है। मुस्लिम धर्म के कैलेंडर के अनुसार  से यह त्योहार दसवे महीने यानी कि अक्टूबर में आता है।

दोस्तों क्या आपको मालूम है कि इस महीने को मुस्लिम धर्म के लोगों के अनुसार शव्वाल भी कहां जाता है, और इसके शुरुवाती के दिन ही यह त्यौहार होता है, जो कि लगभग तीन दिनों तक बड़े आंनद से साथ मनाया जाता है। क्या आपको मालूम है कि रमजान के पुरे महीने में बहुत ही कठिन उपवास रखने और व्रत रखने के बाद जब मुस्लिम भाइयो को चाँद दिखाई देता है तो हर किसी के मन में एक उत्साह और ख़ुशी की लहर दौड़ जाती है और सभी मुस्लिम भाइयो के चेहरे पर रौनक होती है।

आमतौर पर इन दिनों मुस्लिम भाइयो सुबह जल्दी ही उठ कर के और स्नान कर नए कपडे नए वस्त्र को धारण करते है और वो तहे दिल से नमाज अदा भी करते है और उनके घर मे काफी बेहतरीन तरह से सजावट भी की जाती है। और वे सभी लोग काफी धूम धाम से इस त्योहार को मानते भी है।

मुस्लिम समुदाय के हर घर में मिठाई और बड़े अच्छे अच्छे पकवान भी बनाई जाती है , मुसलमान भाई की की खास “सिवेया“ भी इस दिन हर घर में बनाई जाती है  इस दिन कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं रहता और इस दिन सभी लोग काफी खुश रहते है।

ईद के दिन मुसलमान भाई अपने सभी रिश्तेदार और दोस्तों के घर बड़े फुरसत से गले मिलने जाते है ।मुसलमान भाई सभी अपने से बड़े अपने से छोटे को कुछ न कुछ उपहार या धन देते है जिसे “ईदी” भी कहा जाता है।

इस दिन हर व्यक्ति अपने पुराने गिले शिकवे भूल कर प्रेम का आदान प्रदान करते है . यह प्यार सहानुभूति और भाईचारे का पर्व है. कई जगहों पर ईद के मेले भी आयोजित किये जाते है .

इस दिन हर स्तर के मुसलमान को खुशी और उत्साह के रंग में भीगे हुवे देखा जाता है , अमीर हो या गरीब लगभग सभी लोग एकजुट हो कर उत्साह से इस त्योहार को मनाते है।

Janmashtmi festival in hindi | Janmashtmi festival को 2022 में कब मनाया जाएगा?

Eid- Ul- Fitr से जुडी अन्य बातें (Other Things Related To This Festival)

Eid ul Fitr in Canada

हमने ऊपर के टॉपिक के  ईद उल-फितर से जुड़ी सभी जानकारी को प्राप्त किया और दोस्तों अगर हम ईद उल-फितर से जुडी अन्य बातों को देखे तो पहली बार यह त्योहार 624 ईस्वी में बड़े ही धूमधाम से मनाया गया था ।

आपको हम जानकारी के लिए बता दे कि पैगम्बर हजरत मुहम्मद ने  किसी बद्र नामक इंसान के साथ बहुत बड़ा युद्ध किया, और इस युद्ध के दौरान पैगम्बर हजरत मोहम्मद की जीत बहुत ही अच्छे तरह से हुई, इस ख़ुशी में और सभी लोगो को एकजुट करने के लिए पहली बार ईद उल फितर त्यौहार मनाने का आदेश दिया गया और सभी लोगो ने इसको मनाया भी था।

Gangaur Festival in Hindi | गणगौर त्यौहार 2022 का महत्त्व, पूजा विधि, कथा व गीत

अरब में इस तरह के त्योहारों का उल्लेख करने के साथ कुछ बहुत महत्वपूर्ण दिन का भी अच्छी तरह से निर्धारण किया गया था , पहले के समय मे इसमें शाव्वल के माह के पहले दिन के चाँद देखकर ही यह त्यौहार मनाया जाता था।

रमजान के लगभग 29 या 30 दिन के कठिन ब्रत के ख़त्म होने के बाद ही यह पावन और पवित्र दिन आता है , प्रेम और सद्भावना और उच्च विचार के साथ ही सभी मुसलमान भाई  एक साथ मिल झूल कर सभी मुस्लिम इस त्योहार को मनाते है, और इस दिन नमाज अदा भी करते है और गरीब लोगों के मदद के लिए दान भी करते है , और एक दुसरे से गले मिलकर आपस मे3म उपहार देते है .

इस दिन हर मुस्लिम का फर्ज होता है कि वो अपने शक्ति से जितना भी बन सके उतना जरुरतमंदों को दान कर के पुण्य कमाते है . इस दिन सभी अल्लाह से रहमत , अपनी गलतियों के लिए माफ़ी , बरकत की दुआ करते है की सभी लोगों को उनके रोजो का उचित से उचित फल मिले और अल्लाह उन्हें जन्नत की राह पर सजदा करे और खुदा उनके आगे के सभी कार्यो को सफल करे।

Diwali क्या है और Diwali क्यो मनाया जाता है ?

[ Conclusion,निष्कर्ष ]

दोस्तों आशा करता हूं कि आपको मेरा यह लेख Eid- Ul- Fitr क्या है और Eid- Ul- Fitr को कैसे मनाया जाता है आपको बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख मदद से और सभी जानकारी को पूरे विस्तार से प्राप्त कर चुके होंगे जिसके लिए आप हमारे वेबसाइट पर आए थे।

हमने इस लेख में सरल से सरल भाषा का उपयोग करके आपको Eid- Ul- Fitr से जुड़ी सभी जानकारी को स्टेप बाय स्टेप बताने की कोशिश की है क्योंकि हमें मालूम है कि कई सारे लोग ऐसे भी हैं जो ईद उल-फितर से जुड़ी जानकारी को तनिक भी नहीं जानते हैं और वह Eid- Ul- Fitr के बारे में जानना चाहते हैं कि इसकी इतिहास क्या है और इसे क्यों मनाया जाता है और इसके मनाने का उद्देश्य क्या है तो हम सभी ने इन सभी लोगों के लिए ही इस लेख को लिखा था।

और मेरा आप पर संपूर्ण विश्वास है कि आप भी मेरे इस लेख को ध्यान से पूरे अंत तक पढ़ चुके होंगे और Eid- Ul- Fitr से जुड़ी सभी जानकारी को प्राप्त कर चुके होंगे अगर दोस्तों आपको इस पोस्ट में कहीं भी कोई भी किसी भी तरह को,पढ़ने में या किसी भी चीज में कोई भी दिक्कत हुई होगी तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में बेझिझक कुछ भी सवाल पूछ सकते हैं।

हमारी समूह आपकी मैसेज के रिप्लाई जरूर देगी और आप यह भी कमेंट में जरूर बताएं कि यह पोस्ट ईद उल-फितर क्या है और ईद उल-फितर को कैसे मनाया जाता है के बारे में जानकारी आपको कैसा लगा ताकि हम आपके लिए दूसरे पोस्ट ऐसे ही लाते रहे।

तो चलिए दोस्तों इसी जानकारी के साथ हम अब इस लेख को समाप्त करते हैं और अगर आपको हमरा यह पोस्ट को पढ़ने के लिए दिल से धन्यवाद………

Dussehra festival in hindi | 2022 मे Dussehra festival कब मनाया जाएगा?

Previous articleGanesh Chaturthi क्या है और Ganesh Chaturthi को क्यों मनाया जाता है ?
Next articleRath Yatra क्या है और Rath Yatra कैसे मनाया जाता है?

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here