नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप लोग आशा करता हूं आप बिल्कुल ठीक होंगे आपका हार्दिक स्वागत है हमारी इस लेख में आज के इस लेख के मदद से हम खूबानी के बीज पत्ती जूस और उसके फ़ायदे | Apricot fruit juice leaves seeds health skin hair benefits in hindi बारे में संपूर्ण जानकारी पूरे विस्तार से प्राप्त करने वाले हैं और इसके बारे में जानने भी वाले हैं। दोस्तों आपने खुबानी फल के बारे में तो जरूर सुना होगा जो फॉल काफी आकर्षक और हल्का रुवे दार दिखता है और इसको बहुत सारे लोग पसंद भी करते हैं ।

और इसके अंदर पाए जाने वाले काफी बेहतरीन तरह के पोषक तत्व हमारे शरीर के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होते हैं और यह कई सारे लोगों को अपनी और आकर्षित करते हैं। दोस्तों यह आमतौर पर ठंडे प्रदेश में पाए जाते हैं मगर कई सारे लोग ऐसे भी हैं जो इसके बारे में जानना चाहते हैं कि आखिर खूबानी फल क्या है और खुबानी फल का इतिहास क्या रहा है और खुबानी फल का विशेषता क्या है और खुबानी फल को किस तरह से खाया जाता है और खुबानी फल हमारे शरीर में किस तरह से फायदेमंद साबित होता है ।

और खुबानी फल के सेवन से हमारे शरीर में क्या क्या नुकसान होते है और  क्या हमें खुबानी फल का उपयोग करना चाहिए या नहीं यह भी सवाल लोग अक्सर पूछते रहते हैं इसीलिए हमने इस लेख को स्टेप बाय स्टेप लिखकर के इन सभी लोगों को समझाने की कोशिश की है और खुबानी फल से जुड़ी सभी जानकारी बताने की कोशिश की है ।

अगर आप खुबानी फल से जुड़ी सभी जानकारी को प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से मेरा अनुरोध है कि मेरे इस लेख को ध्यान से पूरे अंत तक पढ़े तभी आपको मेरा यह लेख अच्छे से समझ में आएगा और आप इस खुबानी फल से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर पाएंगे तो चलिए शुरू करते हैं इस लेख को बिना देरी किए हुए।

लीची फल बीज रस के फ़ायदे व नुकसान | Lychee Fruit, Seed, Juice health skin hair benefits side effects in hindi

Apricot in hindi (खुबानी का फल)

Apricot - Wikipedia

दोस्तों अगर आपके मन में यह ख्याल है कि आखिर खूबानी क्या होता है तो आप हमारे इस टॉपिक के साथ अंत तक बने रहिए क्योंकि हम इस टॉपिक में आपको बताएंगे कि खुबानी क्या होता है तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि खुबानी या apricot एक गुठली या कह सकते है कि बीज वाला फल होता है जिसे ड्राई फ्रूट ( dry fruit )भी कहा जाता हैं।

इसको कच्चा फल और सूखे मेवे की तरह भी इसका सेवन किया जा सकता है। क्या आपको मालूम है कि असल में खुबानी फल का छिलका यानी कि ऊपरी परत थोड़ा खुरदुरा के साथ साथ मुलायम भी होता हैं जिसे पकड़ने पर ही आपको उस की खुरदता महसूस काफी आसानी से कर सकते हैं। अगर आप ने कभी खुबानी का सेवन किया होगा तो आपको मालूम होगा कि खुबानी मीठा और गर्म तासीर का होता है।

यह हमारे शरीर मे डाइजेशन में काफी तरह तरह के  बिमारिओ को ठीक करने की क्षमता रखता है और यह हमारी शरीर को रोग से बचने में सहायक होता हैं। इसमें vitamin, A , B , C और vitamin E भी पाए जाते हैं।

vitamin के साथ-साथ इसमें potassium, Magnesium, Copper, phosphorus ,की तरह कई सारे पढर्थ काफी अच्छे मात्रा में पाया जाता है। वाकई में इसको खाना ढेर सारे लोग पसंद करते हैं और यह लोगों के शरीर के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है तो चलिए दोस्तों अगले टॉपिक की ओर बढ़ते हैं और जानते हैं खुबानी के बीज से जुड़ी कुछ और जानकारी को।

Parsley क्या है Parsley के फायदे और नुकसान

खुबानी के पेड़ के बारे में (Apricot Plant)

Premature Fruit Drop On Apricot Trees: Why Do Apricot Fruits Fall From Tree

दोस्तों इस टॉपिक के मदद से हम खुबानी के पेड़ से जुड़ी कुछ जानकारी को प्राप्त करने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि खूबानी एक बीज युक्त फल (dry fruit) है। गाइस क्या आपको मालूम है कि खूबानी का पेड़ ज्यादा बड़ा नहीं होता है। इसका कद यानी कि height तकरीबन 8 meter से 12 meter तक के ही होता है। अगर हम इसके पेड़ की जड़ के बारे में बात करे तो इसकी जड़ तकरीबन 40 CM तक हो सकती है।

दोस्तों पत्तों का आकार 4 CM से ले कर के  9 CM लम्बा और 4 CM से ले कर के  8 CM तक चौड़ा और बिलकुल अंडे के आकार के समान होता है। क्या आपको मालूम है कि आमतौर पर इसका रंग पीला और नारंगी जैसा रंग का ही होता है, लेकिन यह फल का जो भी भाग धूप यानी कि घाम के सम्पर्क में आता है सूर्य की किरणों से बहुत सारे प्रभाव से वह लगभग लाल रंग का हो जाता है। खूबानी का फल के अंदर का बीज हल्का कड़ा जैसा होता है।

आपको शायद ही मालूम होगा कि यह फल पूरी तरह से पल्प युक्त होता हैं। आप ने अक्सर ऐसा देखा होगा कि खूबानी फल ठण्ड वाले स्थानों पर पाया जाता हैं। यह हमारे देश भारत में कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड जो कि ठंड वाले प्रदेश है वही में पाया जाता है। ये मीठा और सुखा हुआ फल लगभग दोनों रूपों में प्राप्त होता है।

भांग के बीज के फायदे और नुकसान | Benefits and Side effects of Hemp Seeds in Hindi

खुबानी के फल अलग अलग जगहों पर अलग अलग नाम

दोस्तों आपको मालूम ही होगा कि भारत में थोड़ी दूर जाने पर ही भाषा में बदलाव आपको देखने को मिल जाता है वैसे ही हर एक चीज का नाम भी अलग हो जाता है भाषा के हिसाब से इस टॉपिक में हम आपको बताने वाले हैं कि खुबानी के अलग-अलग नाम और किन किन जगहों पर किस नाम से पुकारा जाता है तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि

  • खुबानी in Sanskrit-उरुमाण
  • खुबानी in English-कौमन एप्रीकोट (Common apricot)
  •  खुबानी in Hindi-जरदालू, खुबानी, चिलू
  •  खुबानी in Persian-मिश-मिश (Mish-Mish), जरदालु (Zardalu)
  •  खुबानी in Kashmiri-गरडालू (Gardalu), जर्दालु (Jardalu), चेरकिश (Cherkish)
  •  खुबानी in Panjabi-हरी (Hari), सरी (Sari), चुली (Chuli)
  • खुबानी in Urdu-खुबानी (Khubani)
  •  खुबानी in Arbi-बिनकफक (Binkuk), किशानिश (Kishanish)
  •  खुबानी in Nepali-खुर्पानी (Khurpani)

तो दोस्तों कुछ यही खुबानी के अलग-अलग नाम है जो कि अलग-अलग जगहों पर पुकारा जाता है तो चली अगले टोपीक की ओर बढ़ते हैं और खुबानी से जुड़ी कुछ और जानकारी को प्राप्त करते हैं।

खूबानी फल की विशेषता (Apricot fruit features in hindi )

दोस्तों इस टॉपिक के मदद से हम खबोनि फल के विशेषता के बारे में जानकारी प्राप्त करने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह एक कठोर बीज युक्त फल होता है। यह काफी  पतले छिलके वाला फल है और पतले छिलके के साथ ही साथ यह चमकीला भी होता है। आपको शायद ही मालूम होगा कि सबसे ज्यादा इसकी पैदावार उज्बेकिस्तान में और तुर्की देश में होती है।

इस का फूल सफ़ेद और गुलाबी और हल्का नारंगी रंग का होता है। यह चार या पांच तरह के  गुच्छों में होता है। यह फल या तो एक या एक से अद्धिक जोड़े में निकलता है यह खबूनी फूल के ऊपर वाले हिस्से में होता है। इन फलों के ऊपर हल्के छोटे छोटे और मुलायम रोएं  जैसा एक खास तरह का परत के साथ रहता है।

खूबानी के आकार और रंग रूप को लेकर मतभेद है। यह नारंगी और सेब या कह सकते गोले  के रूप में खूब चमकीला भी हो सकता है। खूबानी जो थोड़ा चमकीला होता है, उस को थोडा कम लाभकारी बताया जाता है।

खूबानी का स्वाद मीठा,  कड़वा और खट्टा तीनों तरह का होता है। जब यह हल्का कच्चे रूप में होता है तो वह हल्का फुल्का खट्टा होता है और पकने के बाद मीठे स्वाद में बदल जाता है। यह वसा युक्त होने की वजह से गर्म प्रवृत्ति का फल है। तो चलिए दोस्तों अगले टॉपिक की ओर बढ़ते है और खूबानी फल से जुड़ी कुछ और जानकारी को प्राप्त करते हैं।

संतरे के फल, जूस के सेवन करने के फायदे और नुकसान 

खूबानी फल का इतिहास (Apricot history in hindi)

दोस्तों इस टॉपिक के मदद से हम खुबानी के इतिहास से जुड़ी कुछ जानकारी को प्राप्त करने वाले हैं और जानेंगे कि इसका उत्पत्ति कहां से हुई और यह कहां से आया तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए  हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Apricot अर्थात यानी कि खूबानी को चाइना में शान जिंग नाम से बहुत ज्यादा  प्रचलित है। दोस्तों क्या आपको मालूम है कि Apricot शब्द का जन्म यानी कि उतपत्ति अब्रेकाक शब्द से हुआ है, जो कि फ़्रांस के एब्रिकोट से आता है।

इस खबूनि फल का नाम अलग अलग देशो और जगहों में अलग नामों से लिया जाता है ये मैन आपको ऊपर भी बताया था।  चिली,  फ्रांस, अर्जेटीना, और पेरू जैसे देशों में ‘खुबानी’ के लिए दमास्कों है। हम आपके जानकारी के लिए बता दे कि भारत में इस की खोज या इसके बारे में जानकारी तकरीबन 3000 ईस्वी में ही हु चुकी थी।

इस खबूनी फल के पेड़ या पौधे को लगाने के उदेश्य के बारे में चीनी दार्शनिक चुआंग तसू (Chauhang tissue)के बारे में एक कहानी में अच्छी तरह से बताया है कि वो अपने छात्रों या शिष्यों को ख़ुबानी के पेड़ के लकड़ी से घिरे हुए एक बेहतरीन तरह का मंच पर बैठा कर पढ़ाया करते थे,

और वो बहुत ही नेक दिल के आदमी थे लोगो का इलाज करने के बाद चिकित्सा की फ़ीस के बदले में वो खुबानी का पेड़ लगाने की एक अच्छी सलाह देते थे। फ़ारसी में इसे कई सारे लोगो द्वरा जर्द आलू कहा जाता है।  अमेरिका और तुर्की जैसे बड़े देशों में इस के पैदावार को बढ़ाने के लिए रोड या गलियों के दोनों किनारों पर इस के अच्छे तरह के पौधे को लगया गया है। हम आपको बता दे कि ये वहा इतना पसंद किया जाता है कि लगभग प्रत्येक घर के पास इसका एक पेड़ काफी आसानी से दिख जायेगा।

तो दोस्तों कुछ इस तरह से खुबानी पेड़ का इतिहास रहा है और लोग इस पेड़ से काफी ज्यादा प्यार करते हैं और वह इसकी कदर भी करते हैं तो चलिए अपने टॉपिक की ओर बढ़ते हैं और खुबानी फल से जुड़ी कुछ और जानकारी को प्राप्त करते हैं।

खरबूजे के फायदे, उपयोग और नुकसान क्या आप जानते हैं |Muskmelon Benefits, Use and Side Effects in Hindi

खुबानी में पाए जाने वाले पोषक तत्व (Apricot nutrition facts in hindi)

17 Impressive Benefits Of Apricot – The Nutrient-Rich Fruit Everyone's  Talking About

दोस्तों इस टॉपिक में हम बताने वाले हैं कि खुबानी के फल में कौन-कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होते हैं तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कैलोरी की मात्रा  खुबानी में अच्छी खासी मात्रा में कैलोरी मौजूद होती है। एक ताजे खूबानी के फल  जो कि तकरीबन 35 से 50 ग्राम तक का हो सकता है उस मे काफी बेहतर रूप से मिलने वली कैलोरी की मात्रा लगभग 17 तक हो सकती है।

 हर विटामिन की थोड़ी थोड़ी मात्रा इस में अलग अलग तरह से होती है। जैसे कि Vitamin C  लगभग 10 से 15 मिलीग्राम पाया जाता है उसी तरह से vitamin A भी तकरीबन 1926 IU पाया जाता है,  vitamin E तो न के बराबर पाया जाता है, vitamin K तकरीबन 3.3 mcg पाया जाता है, ताम्र तकरीबन 0.03 मिलीग्राम पाया जाता है, magize तकरीबन 0.077 मिलीग्राम पाया जाता है, fibre तकरीबन 1.45 मिलीग्राम तक पाया जाता है, potassium तकरीबन 265 मिलीग्राम पाया जाता है,

Sodium तकरीबन 1 मिलीग्राम पाया जाता है, calcium 13 मिलीग्राम पाया जाता है, magnesium तकरीबन 10 मिलीग्राम पाया जाता है, phosphorus तकरीबन 23 मिलीग्राम तक पाया जाता है, zinc तकरीबन 0.2 मिलीग्राम तक पाया जाता है लौह तत्व तकरीबन 0.39 मिलीग्राम तक पाया जाता है, तो दोस्तों कुछ यही बेहतरीन पोषक तत्व है जो खुबानी के अंदर पाया जाता है और लोग इसे खाना पसंद भी करते हैं तो चलिए अगले टॉपिक की ओर बढ़ते हैं और खुबानी फल से जुड़ी कुछ और जानकारी को प्राप्त करते हैं।

Vinegar क्या है? What is Vinegar meaning in hindi |Vinegar के फायदे और नुकसान

खूबानी के फ़ायदे (Apricot fruit benefits in hindi)

दोस्तों इस टॉपिक के मदद से हम जानने वाले हैं कि आखिर खूबानी फल का सेवन करने से हमारे स्वास्थ्य के ऊपर क्या प्रभाव पड़ता है और यह हमारे लिए किस तरह से फायदेमंद साबित होता है और खूबानी फल के फायदे क्या क्या है तो चलिए इस टॉपिक को शुरू करते हैं बिना देरी किए हुए हमने खूबानी फल के सभी फायदे को स्टेप बाई स्टेप कर के नीचे में लिखा है तो आप इसे ध्यान से पढ़ें।

 दोस्तों क्या आपको मालूम है कि खूबानी का फल बहुत ही मीठा और स्वादिष्ट होता है जिस वजह से इसे लोगो द्वरा खूब पसंद किया जाता है। हम आपके जानकारी के लिए बता दे कि कुछ लोग इसे बेहतरीन स्वादिष्ट के लिए खाते है तो कुछ इस से होने वाले फ़ायदे के लिए इसका सेवन करते है।

गाइस क्या आप सब जानते है कि खूबानी के फल से हृदय रोग होने की ढेर सारी सम्भावना को पूरे तरह से कम हो जाती है। यह हमारे बढ़ते हुवे वजन को भी कम करने में बहुत मददगार साबित होता है, क्योंकि यह रक्त में मौजूद कई सारे कोलेस्ट्रोल की मात्रा को पूरी तरह से नियंत्रित रखता है।

आपको पता ही होगा कि अक्सर खान पान में लापरवाही और ध्यान न देने की वजह से हमारे शरीर में खून की कमी भी हो जाती है। खास कर औरते इस तरह के समस्या से ज्यादा जूझती है और परेशान रहती है उन्हें इस फल का सेवन विशेष रूप से करना चाहिए क्योंकि इस मे मौजूद बेहतर तरह के पढर्थ उनको इस समस्या से बाहर निकलने में बहुत मदद करता है।

खूबानी में मिनरल की मात्रा प्रचूर रूप से होता है यह हमारे शरीर में पानी की कमी को कभी भी नहीं होने देता है।

खूबानी फल के फ़ायदे आमतौर पर सिर्फ़ ताजे फलों को खाने से ही नहीं मिलते है।  बल्कि यह अपने सूखे हुए रूप में भी उतना ही फायदेमंद होता है जितना की एक फम तरो ताजा फलों से होता है।

हमने आपको ऊपर में भी बताया था कि खूबानी के फल में बहुत से अलग तरह के विटामिन होते है जैसे की बी विटामिन सी,  कॉम्प्लेक्स, विटामिन के, आदि. साथ ही इसमें कॉपर,  मैग्नेशियम, मैगज़ीन, फोस्फोरस, होने के अलावा कई तरह के फाईबर रहते है, जो  प्रजनन क्षमता में वृद्धि, आँखों की रोशनी, त्वचा रोग में सहायक होने के साथ ही बहुत से रोगों का खात्मा कर देते है।

क्या आपको मालूम है कि खूबानी में पाचन शक्ति को पूर्ण रूप से ठीक रखने की क्षमता की वजह से यह हमारे शरीर मे कब्ज से होने वाली बीमारी जैसे पाईल्स से काफी अच्छे ढंग से बचाव करता है।

खूबानी में calcium की मात्रा भी काफी अच्छे खासी पाई जाती है जिसके होने से यह हमारे शरीर के हड्डियों को भी स्वस्थ और मजबूत रखता है।

खूबानी में मौजूद potassium और sodium हमारे शरीर के मेटाबोलिज्म लेवल को काफी अच्छे तरह से बढ़ते है।

दोस्तों क्या आपको मालूम है कि फेफड़े की बीमारी और अस्थमा जैसे काफी तरह की बीमारी में यह काफी तरह से सहायक है।

हींग के फायदे और नुकसान | Benefits of Asafoetida in Hindi | Asafoetida Meaning in Hindi

खूबानी त्वचा के लिए फ़ायदेमन (Apricot benefits for skin in hindi )                    

दोस्तों क्या आपको मालूम है कि खूबानी को त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद माना गया है क्योंकि इस में पाय जाने वाले vitamin A की वजह से ये हमारे शरीर की त्वचा की कोशिकाओ को नवनीकृत करने में बहुत फायदेमंद भी होता है।

दोस्तों क्या आपको मालूम है कि खूबानी के सूखे फल से जो भी तेल निकलता है वो हमारे शरीर के त्वचा रोग जैसे की त्वचा का रूखापन, एग्जिमा,  जैसे कई सारे रोगों से बचाव करता है। इस के पहले की प्रभाव की कारण से हमारे शरीर के त्वचा पर निकलने वाली एकने की समस्यां को भी नहीं होती है। इस मे पानी की मात्रा इस फल में भरपूर रहने की कारण से गर्मियों के दिनों में इन के सेवन से त्वचा पर हमेशा ताजगी बनी रहती है। और यह हमारे शरीर को चमकदार बनाये रखता है।

हम आपके जानकारी एक लिए बता दे कि सनबर्न जो धूप की कारण  से हमारे शरीर के त्वचा पर हल्के काले धब्बें की तरह ही आ जाते है उस से यह हमारे त्वचा का बचाव करता है। इस के उपयोग से त्वचा के बंद पोर्स अच्छे तरह से खुल जाते है यह रंगत को अच्छी ढंग से बढ़ाने में भी ये सहायक होते है। आपको तो मालूम ही होगा कि बहुत से सौन्दर्य उत्पाद जो बाजार में उपलब्ध है उसमें इसका उपयोग किया जाता है।

खूबानी बालों के लिए फ़ायदेम (Apricot benefits for hair in hindi)

खूबानी फल के सूखे हुए बीज यानी कि (Seeds) से प्राप्त तेल से सिर के पोरों यानी कि बाल के जड़ो पर धीरे धीरे मसाज करने से उस के बंद पोर भी खुल जाते है। जिस से हमारे बालों में सम्पूर्ण पोषक तत्व काफी असानी से समाहित हो जाते है। जिस से हमारे शरीर की बाल मजबूत और चमकीले होते है।

  • खूबानी फल के उपयोग से बहुत सारे फायदे हमारे बालो को भी प्राप्त होते है।
  • खूबानी फल हमारे बालो को मजबूत बना कर उन के बढ़ने की रफ़्तार में अच्छी खासी वृद्धि करता है।
  • खुबानी के जूस और इसके पत्ते के फ़ायदे (Apricot juice and leaves benefits in hindi)
  • दोस्तों इस टॉपिक के मदद से हम खूबानी के फल के पत्ते और जूस के फायदे से जुड़ी कुछ जानकारी प्राप्त करने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए।
  • संक्रमण से पीड़ित, बुखार से पीड़ित रोगी के लिए खूबानी के जूस का सेवन फायदेमंद है, क्योंकि यह शारीरिक जरुरतों के लिए सभी तरह के कैलोरीज, पानी, विटामिन की आपूर्ति कर देता है, जोकि रोग को ठीक कर सकते हैं.
  • इसके पत्तों को पीस कर इसका लेप अगर चेहरे पर मौजूद मुहासों, एग्जिमा और झाइयो पर लगाया जाए, तो इस परेशानी से बच सकते है.
  • क्या आपको मालूम है कि खूबानी के पत्तों को पानी में उबाल कर पीने से पेट में मौजूद तरह तरह के अपशिष्ट पदार्थ बहार आ जाते है। इस की कारण के। हमारे पेट मे कब्ज से होने वाली परेशानीयों से बच सकते है.
  • दोस्तों क्या आपको मालूम है कि पत्तियों को चबाने से मुंह की दुर्गंधो से बच सकते है।
  • ओट्स क्या है? और ओट्स और दलिया में अंतर | What is Oats in Hindi and Benefits, Uses, difference in Hindi

खुबानी के बीज से लाभ (Apricot seeds benefits in hindi)

Apricot kernel - Wikipedia
  • खूबानी फल के बीज में वसा काफी अच्छे मात्रा में मौजूद होता है इस लिए यह हमारे शरीर में तैलीय पोषक तत्वों की आपूर्ति करता है।
  • इस फल में ताजे फलों की अपेक्षा इसके सूखे हुय बीज में potassium ज्यादा मात्रा में मिलता है, इसलिए इसके बीजो को औषधि बनाने में भी उपयोग किया जाता है जो फायदेमंद है।
  • इसके सेवन से हमारे शरीर में काफी अलग अलग तरह का उर्जा और शक्ति का संचार होता है और हमारी शरीर भी स्वस्थ रहता है।

तो दोस्तों कुछ यही खुबानी फल के बेहतरीन फायदे हैं जो हमारे शरीर के काफी बेहतरीन तरह से फायदेमंद साबित होते है और लोग इसका उपयोग काफी अच्छी ढंग से करते है।

खुबानी का सेवन (Apricot intake in hindi)

दोस्तों इस टॉपिक में हम खुबानी फल के सेवन से जुड़ी कुछ जानकारी प्राप्त करने वाले हैं और जानने वाले हैं कि आखिर खुबानी फल को किस तरह से खाया जाता है तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हमने आपको नीचे में और स्टेट बाय स्टेप करके बताया है कि किस तरह से आपको खुबानी फल का सेवन कर सकते हैं तो आप ध्यान से पढ़ें खुबानी का सेवन निम्न प्रकार से किया जा सकता है –   

  • दोस्तों क्या आपको मालूम है कि खुबानी को धो कर और उस के उपर के नर्म छोटे छोटे बालो की तरह दिखने वाले परत को हटाकर इसको गर्म या ठंडा कर के काफी आराम से खा सकते है।
  • इसका उपयोग करने के लिए इस के बीज को इस फल से बाहर निकाल दिया जाता है और इस को कई प्रकार से ढेर सारे लोगो द्वारा खाया जा सकता है।
  •  ताजे क्रीम या ताजे दही में खुबानी फल के टुकड़े डाल कर के या इस के पल्प को निकाल कर भी खाया भी जा सकता है।
  • दोस्तों क्या आपको मालूम है कि खुबानी फल को आग पर भी अच्छी तरह से पका कर भी खा सकते है। इसके चिकेन बनाने में भी इसका उपयोग किया जाता है।
  • अगर दोस्तों आप चाहे तो इसे कुछ दिन के लिए रख कर भी उपयोग कर सकते है।
  • जैम और जूस के रूप में भी इसका सेवन किया जा सकता है.
  • इसको बादाम या हरे पत्ते इत्यादि जैसे चीजो से साझा कर सलाद के तरह भी सेवन कर सकते है।

तो दोस्तों कुछ इस तरह से खुबानी फल का उपयोग किया जाता है और तरह-तरह के व्यंजन में  इसको अच्छी तरह से मिला करके खाया जाता है तो चलिए अगले टॉपिक की ओर बढ़ते हुए और खुबानी से जुड़ी कुछ और जानकारी को प्राप्त करते है।

कलौंजी के सभी फायदे और उसके नुकसान | Kalonji Benefits and Side Effects in Hindi

खुबानी फल से नुकसान (Apricot side effects in hindi ) 

दोस्तों हमने इस टॉपिक में बताया है कि आखिर खुबानी फल का उपयोग करने से हमारे शरीर में क्या क्या साइड इफेक्ट्स होते हैं या और हमारे शरीर में क्या-क्या दिक्कतें आती है तो चलिए इस टॉपिक को शुरू करते हैं बिना देरी किए हुए और हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि            

  • इस खुबानी फल का सेवन करने से फ़ायदे के साथ साथ हमारी शरीर में थोड़े बहुत नुकसान भी है। सूखे खुबानी फल का सेवन मधुमेह के रोगियों के लिए थोड़ी बहुत नुकसानदायक हो सकता है। इस लिए मेरे हिसब से मधुमेह के रोगियों को खुबानी फल का सेवन नही करना चाहिए।
  • दोस्तों क्या आपको मालूम है कि खूबानी सूखने के बाद अपने में मौजूद पानी की मात्रा का 30% से 35% तक खो देता है।  इसलिए इसके सूखे फलों को खाने से पहले पानी में डुबों के कुछ देर तक छोड़ देना चाहिए.
  • ब्रिटीश सरकार की food standards agency के अनुसार खूबानी के बीज में एक ऐसा पदार्थ पाया गया है, जो कि हमारे शरीर के लिए थोड़ा बहुत नुकसानदायक हो सकता है.
  • दोस्तों एक्सपर्ट के अनुसार एक दिन में तकरीबन 4 से 5 खूबानी के फल को नहीं खाना चाहिए।

मकई का आटा (Cornflour) क्या है?  और  इसके फायदे और नुकसान  क्या है

[ Conclusion, निष्कर्ष ]

दोस्तो आशा करता हूं कि आपको मेरा यह लेख खूबानी के बीज पत्ती जूस और उसके फ़ायदे | Apricot fruit juice leaves seeds health skin hair benefits in hindi आपको बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख के मदद से वह सभी जानकारी को पूरे विस्तार से समझ चुके होंगे जिसके लिए आप हमारे वेबसाइट पर आए थे।

हमने इस लेख में सरल से सरल भाषा का उपयोग करके आपको खुबानी फल से जुड़ी सभी जानकारी देने की कोशिश की है क्योंकि हमें मालूम है कि कई सारे लोग ऐसे भी हैं जो जानना चाहते हैं कि आखिर खूबानी फल क्या है और खुबानी फल का इतिहास क्या रहा है और खुबानी फल का विशेषता क्या है और खुबानी फल को किस तरह से खाया जाता है।

और खुबानी फल हमारे शरीर में किस तरह से फायदेमंद साबित होता है और खुबानी फल के सेवन से हमारे शरीर में क्या क्या नुकसान होते है और  क्या हमें खुबानी फल का उपयोग करना चाहिए या नहीं यह भी सवाल लोग अक्सर पूछते रहते हैं इसीलिए हमने इस लेख को स्टेप बाय स्टेप लिखकर के इन सभी लोगों को समझाने की कोशिश की है और खुबानी फल से जुड़ी सभी जानकारी बताने की कोशिश की है।

और आप सभी पर मेरा संपूर्ण विश्वास है कि आप सभी मेरे इस लेख को ध्यान से पूरे अंत तक पढ़ चुके होंगे और खुबानी फल से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त कर चुके होंगे।

अगर दोस्तों आपको इस पोस्ट में कहीं भी कोई भी किसी भी तरह को,पढ़ने में या किसी भी चीज में कोई भी दिक्कत हुई होगी तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में बेझिझक कुछ भी सवाल पूछ सकते हैं। हमारी समूह आपकी मैसेज के रिप्लाई जरूर देगी और आप यह भी कमेंट में जरूर बताएं कि खूबानी के बीज पत्ती जूस और उसके फ़ायदे और नुकसान पर यह पोस्ट लगा ताकि हम आपके लिए दूसरे पोस्ट ऐसे ही लाते रहे।

तो चलिए दोस्तों इसी जानकारी के साथ हम अब इस लेख को समाप्त करते हैं और अगर आपको हमरा यह पोस्ट को पढ़ने के लिए दिल से धन्यवाद………

Baking soda उपयोग क्या है और Baking soda का फायदे और नुकसान क्या है

Previous articleलीची फल बीज रस के फ़ायदे व नुकसान | Lychee Fruit, Seed, Juice health skin hair benefits side effects in hindi
Next articleपपीता खाने के फायदे और नुकसान | Papaya health benefits and Side Effects in Hindi (2022)

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here