Home HEALTH AND BEAUTY Chehre se acne hatane ke Gharelu Upay | चेहरे से कील मुंहासे...

Chehre se acne hatane ke Gharelu Upay | चेहरे से कील मुंहासे हटाने के अचूक घरेलू उपाय (2022)

2
Acne
Acne

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप लोग आशा करता हूं आप बिल्कुल ठीक होंगे आपका हार्दिक स्वागत है हमारे इस लेख में आज के इस लेख की मदद से हम Chehre se acne hatane ke Gharelu Upay बारे में संपूर्ण जानकारी पूरे विस्तार से प्राप्त करने वाले हैं और इसके बारे में जानने भी वाले हैं।

दोस्तों यदि आप अपने चेहरे पर के मुंहासे से परेशान है और उनका उपाय खोज रहे हैं तो  हमें आपसे अनुरोध है कि कृपया आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा ध्यान से जरूर पढ़ें क्योंकि  हमने इस आर्टिकल में मुँहासे और पिंपल से जुड़ी सभी जानकारियों को सरल से सरल भाषा का उपयोग करके पूरा विस्तार से बताया है।

इसके अलावा हमने इस आर्टिकल में  बताया है कि आप अपने चेहरे के मुहासे और पिंपल्स को कैसे हटा सकते हैं हमें इस लेख में बहुत सारे तरीकों को जाना है जिसकी मदद से कोई भी अपने चेहरे पर के मुंहासे को हटा सकता है इसके अलावा हमने इस आर्टिकल में  हम यह भी बताएंगे कि मुँहासा (acne) किसे कहते हैं? और मुँहासे कितने प्रकार के होते हैं,

इसके अलावा आर्टिकल के अंत में हम लोग बात करेंगे कि मुँहासे क्यों निकलते हैं और उन मुँहासे का निकलने का पीछे कारण क्या होता है तो यदि आप इन सारी जानकारियों के बारे में पूरा ज्ञान लेना चाहते हैं और आप इस परेशानी से निजात पाना चाहते हैं तो आप हमारे इस आर्टिकल के साथ बने रहे और बिना कोई देरी किए चलिए अब इस आर्टिकल को शुरू करते हैं और चेहरे से कील मुंहासे हटाने के अचूक घरेलू उपाय  के बारे में जानते हैं।

चेहरा साफ करने वाले 12 सबसे अच्छे Face Wash| Best Face wash

मुँहासा (acne) किसे कहते हैं? (What is Acne?)

दोस्तों जैसा कि हम लोग जानते हैं कि आज के जमाने में चेहरे पर मुँहासे (acne) त्वचा की एक आम समस्या है। आजकल के समय में यह समस्या लगभग सभी लोगो का समस्या बन गया है और यह चेहरे को काफी बदसूरत बनाता है। दोस्तों हम आपको बता दें कि कील-मुँहासे ज्यादातर खान-पान की गड़बड़ी या हार्मोनल बदलावों के कारण निकलते हैं। सिर्फ कुछ आहार ऐसे होते हैं जिनको खाने से आपकी त्वचा खराब हो जाती है और कील मुँहासों की समस्याएं शुरु हो जाती हैं।

व्यक्ति का स्वास्थ्य वात, कफ, पित्त पर निर्भर करता है। ऐसे में कफ और पित्त के अधिक बढ़ जाने पर मुँहासे की समस्या होने लगती है।

सबसे अधिक मुँहासों की समस्या चेहरे के त्वचा पर अधिकतर देखी जाती है, परन्तु चेहरे के साथ-साथ यह एक्ने कंधों और पीठ पर भी मुँहासों अधिकतर निकलती है। विशेष रूप से चेहरे और पीठ पर एक्ने ज्यादा निकलते हैं। शरीर की तलवों और हथेलियों पर यह कभी नहीं होती।

चेहरे पर होने वाले यह मुँहासा लगभग 14 वर्ष से शुरु होकर 30 वर्ष तक कभी भी निकल सकते हैं। ये मुँहासा निकलते समय तकलीफ दायक होते हैं और उसके बाद भी  इन सभी मुँहासे के दाग-धब्बे चेहरे पर रह जाते हैं। और यह देखने में काफी ज्यादा बदसूरत लगते हैं  और अक्सर यह देखा जाता है कि काफी लोगों के  चेहरे पर  किस तरह का दाग धब्बा पाया जाता है वह दाग धब्बा इन्हीं सब मुहासे और  झुरियों का होता है।

आम के फायदे और नुकसान | Mango Benefits and Side Effects in Hindi (2022)

मुँहासे कितने प्रकार के होते हैं?

दोस्तों इस टॉपिक में हम लोग बात करने वाले हैं कि मुँहासे कितने प्रकार के होते हैं तो यदि आप नहीं जानते हैं कि मुँहासे और झुरिया कितने प्रकार के होते हैं तो आप हमारे इस टॉपिक को पूरे ध्यान से पढ़ें चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को और जानते हैं कि मुँहासे कितने प्रकार के होते हैं।

दोस्तों हम आपको बता दें कि वैसे तो मुँहासे अनेक प्रकार के होते हैं कुछ मुँहासे जैसे कि Papules, Pustules, Nodules, Cyst इत्यादि जैसे कुछ मुहासे हैं जो कि  आमतौर पर लोगों के चेहरे पर  पाए जाते हैं।

पेपुल्यस (Papules) –  इस प्रकार के  मुँहासा गुलाबी रंग के ठोस दाने होते हैं, जो कि आमतौर पर चेहरे के त्वचा पर काफी ज्यादा होते हैं और जिनकी वजह से कभी-कभी दर्द भी होता है।

फुँसी या दाना (Pustules)- ये छोटे दाने होते हैं। जो आमतौर पर चेहरे की त्वचा पर पाए जाते हैं यह छोटे छोटे दाने होते हैं जो कि चेहरे पर काफी ज्यादा दाग और धब्बे छोड़ देते हैं

नोड्यूल्स (Nodules)  इस प्रकार के मुँहासा त्वचा पर थोड़ी गहराई में निकलते हैं। इन  मुँहासा का आकार बाकी मुँहासा के मुकाबले थोड़ा बड़ा होता है और यही कारण है कि इनकी वजह से दर्द भी होता है।

सिस्ट (Cyst) – इस प्रकार के मुँहासा त्वचा पर ज्यादा गहराई में निकलते हैं और इनकी वजह से दर्द भी हो सकता है। कईं बार ये ठीक होने के बाद त्वचा पर दाग धब्बे छोड़ देते हैं। जो की देखने में काफी ज्यादा बदसूरत लगता है।

व्हाइटहेड्स- इस प्रकार के मुँहासे बहुत छोटे होते हैं और आमतौर पर त्वचा के नीचे मौजूद होते हैं। इस प्रकार के मुँहासे बाकी मुँहासे के मुकाबले कम दर्द करते हैं।

ब्लैकहेड्स (blackheads) – यह स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है। इस प्रकार के मुँहासा रंग में काले और त्वचा की सतह पर दिखते हैं।

ग्रीन टी अर्थात हरी चाय के फ़ायदे व नुकसान | Green Tea Benefits and…

मुँहासे क्यों निकलते हैं? (Causes of Acne)

 दोस्तों इस टॉपिक में हम लोग जानने वाले हैं कि  हमारे  चेहरे और त्वचा पर मुँहासे (acne) क्यों निकलते हैं तो यदि आपको नहीं पता है कि मुँहासे (acne) क्यों निकलते हैं तो आप हमारे इस टॉपिक को पूरा ध्यान से पढ़ें  क्योंकि इस टॉपिक पर हम लोग बहुत सारे कारण बताने वाले हैं जिनके वजह से हमारे चेहरे की त्वचा पर अक्सर मुँहासे निकलते हैं।

आयुर्वेद के अनुसार ऐसा बताया जाता है कि शरीर में कफ और पित्त की अधिकता होने के कारण हमारे शरीर पर या त्वचा पर मुँहासे निकलने लगते हैं। इसके अलावा मुँहासे निकलने के और भी बहुत सारे कारण हैं मुँहासे निकलने के कुछ ऐसे कारणों के बारे में बतायेंगे जिसको सुनकर आप आश्चर्य में पड़ जायेंगे।

मुँहासे/पिंपल/एक्ने की समस्या अनुवांशिक हो सकती है। दोस्तो हम आपको बता दें कि अगर आपके परिवार में किसी को बार-बार पिंपल होते हैं तो आपको भी मुँहासे/एक्ने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

कभी-कभी बढ़ती उम्र के साथ शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलावों की वजह से भी मुँहासा होते हैं। खासकर महिलाओं को गर्भावस्था, मासिक धर्म, और रजोनिवृत्ति के समय शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलावों के कारण भी मुँहासा या एक्ने हो सकते हैं। और कभी-कभी मिर्गी, तनाव, या मानसिक बीमारी से जुड़ी कुछ दवाओं के सेवन से भी मुँहासा या एक्ने निकल सकते हैं।

Cosmetic यानी सौंदर्य प्रसाधनों का जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करने से मुँहासे या एक्ने निकल सकते हैं। कई बार महिलाएं पूरे दिन अपने चेहरे के त्वचा पर मेकअप में रहती हैं और रात को भी ठीक से अपना चेहरे के त्वचा पर लगाया हुआ मेकअप मेकअप नहीं उतारती हैं। इस वजह से भी पिंपल या मुँहासे हो सकते हैं। इसलिए हमेशा महिलाओं को हल्का-हल्का मेकअप करने और natural beauty product का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।

दोस्तो कभी-कभी ऐसा देखा गया है कि बेकरी के खाद्य पदार्थ और high sugar वाले drinks  का सेवन करने से भी एक्ने होते हैं। इसके अलावा ऑयली चीजें, डेयरी प्रोडक्ट और जंक फूड़ के ज्यादा सेवन से भी  चेहरे पर मुँहासे या एक्ने हो सकते हैं।

और ऐसा भी देखा गया है कि इंसान को ज्यादा समय तक स्ट्रेस में रहने से भी एक्ने की परेशानी हो सकती है। जब कोई व्यक्ति तनाव में होते हैं तो  उस व्यक्ति के शरीर के अन्दर कुछ-कुछ बदलाव होते हैं जिस कारण मुँहासे होते है। दोस्तों हम आपको बता दें कि  स्ट्रेस के समय हमारे शरीर में दरअसल, तनाव से न्यूरोपैट्राइड्स नाम के एक रसायन निकलता है जिससे तनाव और भी बढ़ सकता है।

और यदि आप ज्यादा अधिक समय तक धूल-मिट्टी और प्रदूषित वातावरण में रहते हैं तो भी आपको एक्ने होने का खतरा हो सकता है। इसके अलावा, यदि आप एक शहर से दूसरे शहर तक ज्यादा आना-जाना करते रहते हैं तो भी बदलते मौसम के कारण भी आपको एक्ने और मुँहासा हो सकते हैं।

त्वचा पर फुँसी और मुँहासा इसलिए होते हैं  क्योंकि फैट ग्रन्थियों से जो स्राव निकलता है वह स्राव रूक जाता है। यह स्राव त्वचा को नरम और मुलायम रखने के लिए रोम छिद्रों से हमेशा  निकलता रहता है। यदि यह स्राव रुक जाए तो फुँसी के रूप में त्वचा के नीचे इकट्ठा हो जाता है और कठोर हो जाने पर मुँहासा बन जाता है। इसे ‘एक्ने वल्गेरिस’ कहते हैं। इसमें पस पड़ जाए तो इसे कील यानी मुँहासा या पिम्पल कहते हैं और पस निकल जाने पर ही यह ठीक हो जाते हैं।

हल्दी के गुण फायदे एवम उपयोग और नुकसान | Turmeric Health Benefits In Hindi…

मुँहासों के अनजाने लक्षण (Symptoms and Signs of Acne)

दोस्तों इस टॉपिक में हम लोग जानेंगे कि  आपके चेहरे में होने वाले मुँहासों के अनजाने लक्षण क्या हो सकते हैं तो यदि आप नहीं जानते हैं कि मुँहासों के अनजाने लक्षण क्या होते हैं तो आप हमारे इस टॉपिक को पूरा अंत तक पढ़े  तो बिना देरी के चलिए इस टॉपिक को शुरू करते हैं और मुँहासों के अनजाने लक्षण के बारे में जानते हैं

दोस्तों हम आपको बता दें कि मुँहासे, पिंपल्स या एक्ने फूंसी का ही एक रूप होते हैं, लेकिन इसके अलावा और भी बहुत सारे लक्षण-संकेत होते हैं।

  • व्हाइटहेड्स whiteheads (बंद छिद्रित छिद्र)
  • ब्लैकहेड्स blackheads (खुले छिद्रित छिद्र)
  • छोटे लाल, टेंडर बम्प

और ऐसा हमेशा से देखा गया है कि कभी-कभी महिलाओं को मुँहासे आने लगते हैं, और उसके बाद उनका वजन बढ़ने लगता है, और साथ ही साथ उनका बाल झड़कर पतले हो जाते हैं। लेकिन यह लक्षण सामान्य लगने के बावजूद आपके माँ न बन पाने के भी लक्षण हो सकते हैं। यह इसका संकेत है कि आप समय से पहले इन संकेतों पर ध्यान दें और बांझपन होने से पहले संभाल लें।

आमतौर पर polycystic ovary syndrome (पी.सी.ओ.एस) भारतीय जनन आयु की महिलाओं में अंतस्रावी विकारों में एक ऐसा विकार है, जिससे आमतौर पर बांझपन होता है।  अगर किसी भी महिला दर्दनाक अनियमित मुँहासे या मासिक धर्म से ग्रस्त है और लगातार उसका वजन बढ़ रहा है तो समझिए वह polycystic ovary syndrome (PCOS) नामक हार्मोन असंतुलन से गुजर रही है।

तो दोस्तों चलिए अगले टॉपिक की और बढ़ते हैं और जानते हैं कि मुंहासे हटाने के अचूक घरेलू उपाय क्या-क्या हो सकते हैं तो यदि आप मुंहासे हटाने उपाय  के बारे में नहीं जानते हैं तो चलिए  अब जानते हैं

संतरे के फायदे और नुकसान | Orange Health Benefits In Hindi (2022)

एक्ने से बचने के उपाय (Prevention for Acne)

दोस्तों इस टॉपिक में हम लोग जाने वाले हैं कि  आप अपने चेहरे में हुए पिंपल्स को कैसे खत्म कर सकते हैं तो दोस्तों यदि आप के चेहरे में भी मुँहासा या पिंपल्स हुआ है और आप नहीं जानते हैं कि एक्ने से बचने के उपाय क्या हो सकते हैं ।

तो आप हमारे इस टॉपिक को पूरा ध्यान से पढ़ें क्योंकि इस टॉपिक में हमने मुँहासा या पिंपल्स से बचने का बहुत सारे तरीका बताया है जिनके मदद से आप अपने चेहरे पर होने वाले मुँहासा या पिंपल्स को खत्म कर सकते हैं तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को और जानते हैं एक्ने से बचने के उपाय के बारे में,

1. अपने चेहरे को ठीक से धोएं

दोस्तों यदि आप अपने चेहरे को मुँहासा ठीक करना चाहते हैं तो पहला तरीका यह है कि आप  चेहरे को हमेशा धोना काफी ज्यादा जरूरी है क्योंकि इससे आपका चेहरा हमेशा साफ रहेगा और जिससे आपके चेहरे पर पिंपल्स  भी नहीं आएगी. पिंपल्स को रोकने में मदद करने के लिए, रोजाना अतिरिक्त गंदगी, तेल, धूल मिट्टी और पसीने को हटाना जरूरी है। हालांकि, अपना चेहरा बहुत ज्यादा धोने से मुंहासे खराब हो सकते हैं।

“जब हम लोग अतिरिक्त धोने के साथ अपनी प्राकृतिक सेबम की चेहरे के त्वचा को हटा देते हैं, तो यह वास्तव में आपकी त्वचा को पुनर्संतुलित करने के लिए त्वचा को और भी अधिक तेल का उत्पादन करने का कारण बनता है,” ऐसा बहुत सारे डॉक्टर बताते हैं कि इस प्रकार, अपने चेहरे को अत्यधिक धोने से वास्तव में मुंहासे खराब हो सकते हैं, जैसे कि सफाई करने वाले या एस्ट्रिंजेंट का उपयोग करना जो त्वचा को बहुत शुष्क कर देता है।”

मिकैलोव ऐसे क्लीन्ज़र का उपयोग करने का सुझाव देता है जो सुगंध-मुक्त, सल्फेट-मुक्त, और पर्याप्त कोमल हों कठोर शारीरिक स्क्रब या सुखाने वाले फोमिंग क्लीनर का उपयोग करने के बजाय दो बार दैनिक उपयोग करें।

अपना चेहरा के त्वचा धोने के लिए:

अपने चेहरे कोप गर्म पानी से गीला नहीं करें।  केवल आप एक उंगलियों में एक हल्का सफाई करने वाला लागू करें अपनी उंगलियों का उपयोग करके कोमल, गोलाकार गति करें, न कि वॉशक्लॉथ। आप अपनी  चेहरे की त्वचा को अच्छी तरह से कुल्ला, और थपथपाकर सुखाएं।

2. अपनी त्वचा के प्रकार को जानें

सबसे पहले आप अपने त्वचा के प्रकार को जानें  कि आपके त्वचा किस प्रकार का है  अपनी त्वचा के प्रकार को जानना आम तौर पर सहायक होता है ताकि आप यह जान सकें कि किन products का उपयोग करना है और किन products से बचना है।

आपकी त्वचा के प्रकार की पहचान करने के लिए  आप हमारे द्वारा बताए गए कुछ मापदंडों का उपयोग कर सकते हैं (लेकिन यदि आप  उसके बाद भी  अपनी त्वचा के प्रकार को लेकर अनिश्चित हैं तो मदद के लिए त्वचा विशेषज्ञ से भी सलाह ले सकते हैं):

  • सूखी: आपकी त्वचा  हमेशा परतदार और तंग महसूस करती है।
  • तैलीय: दिन के अंत तक आपकी त्वचा  काफी ज्यादा चमकदार दिखने लगती है।
  • संयोजन: आपके पास तैलीय क्षेत्र  और शुष्क क्षेत्र दोनों होते हैं (आपका तैलीय क्षेत्र आमतौर पर आपका माथा, नाक और ठुड्डी होता है )
  • संवेदनशील: आपकी त्वचा बहुत आसानी से चिड़चिड़ी हो जाती है और हमेशा लाल होने का खतरा होता है।

ऐसा देखा गया है कि सामान्य तौर पर, तैलीय त्वचा के प्रकारों में मुंहासों का खतरा अधिक होता है, लेकिन ऐसा देखा गया है कि किसी को भी पिंपल्स हो सकते हैं, चाहे उनकी चेहरे के त्वचा का प्रकार कुछ भी हो यह कोई निर्धारित नहीं है कि इस प्रकार के त्वचा में ही पिंपल हो सकते हैं । आपकी त्वचा के प्रकार की जानकारी हाथ में होने से आपकी त्वचा को साफ़ करने में मदद करने के लिए सही मुँहासा product चुनने में मदद मिलेगी।

“उदाहरण के लिए हम आपको बता दें कि , यदि आपकी चेहरे के त्वचा मुँहासा और संवेदनशील है, तो सैलिसिलिक एसिड धोने जैसे मुँहासे को लक्षित करने वाले बहुत से सक्रिय पदार्थों का उपयोग करना, एक सैलिसिलिक एसिड एक्सफ़ोलीएटिंग टोनर, और एक रेटिनॉल क्रीम आपकी त्वचा के लिए काफी अधिक हो सकता है और क्षतिग्रस्त त्वचा अवरोध के कारण अधिक ब्रेकआउट हो सकता है,” मिकाइलोव”।

यदि आपकी त्वचा तैलीय है, तो शुष्क त्वचा के लिए तैयार किए गए मॉइस्चराइज़र का उपयोग करना बहुत अधिक अवरोधी हो सकता है और जिससे रोम छिद्रों को बंद कर सकता है।

सेब खाने के फायदे और नुकसान | Apple health benefits and Side Effects in…

3. मॉइस्चराइजर (moisturizer) का प्रयोग करें.

मॉइस्चराइज़र त्वचा को हाइड्रेटेड रहने में मदद करते हैं। यहां तक ​​​​कि अगर आपको चेहरे में काफी ज्यादा पिंपल और  मुंहासे हैं, तो आपके लिए एक मॉइस्चराइजर महत्वपूर्ण है क्योंकि अगर आपकी चेहरे के त्वचा बहुत अधिक शुष्क हो जाती है, तो यह संतुलन के लिए तेल (सीबम) का उत्पादन करेगी और सीबम की अधिकता से पिंपल्स हो जाते हैं।

हालांकि, कई moisturizer में सिंथेटिक सुगंध, तेल, या अन्य अवयव  होते हैं जो  आपके चेहरे के त्वचा को परेशान कर सकते हैं और मुंह का कारण बन सकते हैं। यदि आप moisturizer खरीदना चाहते हैं तो कोई भी moisturizer खरीदने से पहले सामग्री की सूची की जाँच अवश्य करें और जाँच लें कि यह सुगंध रहित और।गैर- कॉमेडोजेनिक है।

जब संवेदनशील या मुँहासे-प्रवण त्वचा के लिए किसी भी उत्पाद की बात आती है, moisturizer की बात जरूर आती है क्योंकि moisturizer लगाने से हमारा त्वचा काफी ज्यादा अच्छा हो जाता है

4. हमेशा हाइड्रेटेड रहे

यदि आप निर्जलित हैं, तो आपका शरीर और आपका चेहरा आपकी त्वचा की तेल ग्रंथियों को अधिक तेल उत्पन्न करने के लिए संकेत दे सकता है। निर्जलीकरण आपकी त्वचा को एक सुस्त रूप देता है और आपके चेहरे के त्वचा के लाली और सूजन को बढ़ावा देता है।

अपने शरीर को अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रखने के लिए, आप यह कोशिश करें कि  प्रत्येक दिन कम से कम आठ 8-औंस गिलास पानी पिएं। व्यायाम के बाद अधिक पिएं, यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं, या आप गर्म, आर्द्र वातावरण में समय बिताती हैं।

दोस्तों ऐसा हमेशा देखा क्या है कि  बहुत सारे लोग पिंपल्स को ढकने के लिए मेकअप का इस्तेमाल करते हैं क्योंकि  पिंपल्स पर मेकअप करना थोड़ा लुभावना  लगता है। हालांकि, ऐसा करने से रोमछिद्र बंद हो सकते हैं और प्रकोप शुरू हो सकते हैं।

निम्बू के फायदे और नुकसान | Lemon Health Benefits in Hindi

5. Makeup सीमित मात्रा में करें

दोस्तों ऐसा देखा गया है कि बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो मेकअप बहुत ज्यादा करते हैं जिसके वजह से उनके चेहरे और त्वचा पर पिंपल्स आने लगते हैं  इसलिए आप मेकअप करे लेकिन सिर्फ सीमित मात्रा में करे।

अपनी दिनचर्या से मेकअप को हटाना मुश्किल हो सकता है। यदि आप अभी भी अपने चेहरे पर या अपने त्वचा पर उत्पादों को लागू करने का निर्णय लेते हैं, तो आपको एक ऐसा फाउंडेशन या कंसीलर चुनना चाहिए जो गैर-कॉमेडोजेनिक और खुशबू से मुक्त हो ताकि आपकी त्वचा और भी अधिक चिड़चिड़ी न हो।

किसी भी मेकअप को धीरे से धोना सुनिश्चित करें जब आप इसे पहन रहे हों, विशेष रूप से रात में सोने से पहले ऐसा जरूर करें।

मेकअप को सीमित करने के अलावा, आपको अपने चेहरे के त्वचा के पास उपयोग किए जा रहे किसी भी अन्य products, विशेष रूप से हेयर स्टाइलिंग उत्पादों के बारे में सावधान रहना चाहिए। दोस्तों हम आपको बता दें कि हेयर स्प्रे, टेक्सचराइजिंग और ड्राई शैम्पू उत्पाद आपकी त्वचा के संपर्क में आ सकते हैं और प्रकोप का कारण बन सकते हैं। इसीलिए आप अपनी चेहरे के त्वचा पर कोई भी प्रोडक्ट लगाने से पहले उसे अच्छे से चेक करें और तब इस्तेमाल करें।

6. अपने चेहरे को छूने की कोशिश न करें

दोस्तों यदि आप अपने चेहरे पर के पिंपल्स और झुर्रियों को  हमेशा के लिए मिटाना चाहते हैं तो आप हमेशा कोशिश करें कि अपने चेहरे को छूने की कोशिश न करें हमें पता है कि यह करना भी ज्यादा कठिन हो सकता है, लेकिन आपके चेहरे को छूने से काफी सारा बैक्टीरिया और उन रोमछिद्रों को आपकी त्वचा पर स्थानांतरित कर सकते हैं।

इसलिए आप इस बात का ध्यान रखने की कोशिश करें कि आप कितनी बार अपने चेहरे को छू रहे हैं तो आप यह कोशिश करे की हमेशा हाथ धोकर छुए और ताकि आपकी त्वचा एकदम स्वस्थ रहें और उस पर कोई भी बैक्टीरिया ना सके। अपने हाथों को नियमित रूप से धोने की पूरी कोशिश करें ताकि यदि आप अपना चेहरा छूते हैं, तो आपके हाथ साफ रहे ताकि आपको चेहरा छूने से कोई भी  बैक्टीरिया आपके चेहरे पर ना आ सके। .

पपीता खाने के फायदे और नुकसान | Papaya health benefits and Side Effects in…

7. सूर्य के संपर्क मे सीमित समय के लिए रहे

दोस्तों ऐसा देखा गया है कि कुछ किरणों को पकड़ने से अल्पावधि में मुंहासे सूख सकते हैं, लेकिन यह लंबे समय में काफी बड़ी समस्याएं पैदा करता है। इसलिए बार-बार सूर्य के संपर्क में आने से त्वचा निर्जलित हो जाती है, जो समय के साथ, अधिक तेल का उत्पादन करने और छिद्रों को अवरुद्ध करने का कारण बनती है।

आपकी चेहरे के त्वचा को साल भर सुरक्षित और स्वस्थ रखने में मदद करने के लिए सनस्क्रीन पहनना महत्वपूर्ण है। हालांकि, कई सनस्क्रीन ऑयली होते हैं। फुंसियों और धूप से सुरक्षा दोनों के लिए, एक गैर-कॉमेडोजेनिक, तेल-मुक्त सनस्क्रीन चुनें।

8. अपने पिंपल्स को ना फोड़े

दोस्तों ऐसा हमेशा देखा गया है कि बहुत सारे लोगों के जब चेहरे पर पिंपल्स होते हैं तो वह  अपने पिंपल्स को फोड़ देते हैं क्योंकि यह करने में सभी को  अच्छा लगता है लेकिन ऐसा करना आपके चेहरे के लिए काफी ज्यादा खतरनाक हो सकता है क्योंकि पिंपल्स को फोड़ने से रक्तस्राव, गंभीर घाव या संक्रमण हो सकता है।

यह सूजन को भी बढ़ा सकता है और आसपास के छिद्रों को बंद कर सकता है, जिससे आपकी पिंपल्स की समस्या और भी बहुत ज्यादा बदतर हो सकती है।

खूबानी के बीज पत्ती जूस और उसके फ़ायदे | Apricot fruit Juice, Leaves, Seeds…

9. फ्रांसीसी हरी मिट्टी को इस्तेमाल करें

दोस्तों यदि आप अपने चेहरे पर फ्रांसीसी हरी मिट्टी को लगाते हैं तो आपके चेहरे के लिए यह काफी फायदेमंद हो सकता है फ्रांसीसी हरी मिट्टी उपचार गुणों के साथ एक शोषक, खनिज युक्त मिट्टी है। एक 2010 के शोध के अनुसार, फ्रेंच हरी मिट्टी में शक्तिशाली जीवाणुरोधी गुण होते हैं।

यह अशुद्धियों को बाहर निकालने में मदद करता है, और यह मिट्टी आपके चेहरे के सूजन को कम करता है, और अतिरिक्त तेल को अवशोषित करता है जिससे मुंहासे हो सकते हैं।

फ्रांसीसी हरी मिट्टी पाउडर के रूप में उपलब्ध है जिसे आप फेस मास्क बनाने के लिए पानी के साथ मिला सकते हैं। अधिक गतिशील प्राकृतिक मास्क के लिए आप अन्य त्वचा-सुखदायक सामग्री जैसे शहद या दही को फ्रेंच हरी मिट्टी में मिला सकते हैं। और अपने चेहरे पर  इसको लगा सकते हैं।

लीची फल बीज रस के फ़ायदे व नुकसान | Lychee Fruit, Seed, Juice health…

10. एंटीबायोटिक दवाओं का प्रयोग करें

यदि मुँहासे उपचार आपकी त्वचा को साफ़ नहीं करते हैं, तो आपका त्वचा विशेषज्ञ त्वचा पर सूजन और बैक्टीरिया को कम करने में मदद के लिए एंटीबायोटिक्स दवाओं को इस्तेमाल करने का सलाह दे सकते है। वे मौखिक  और  सामयिक दोनों रूपों में उपलब्ध हैं और आपकी त्वचा पर प्रोपियोनिबैक्टीरियम एक्ने बैक्टीरिया की मात्रा को काफी ज्यादा कम करके काम करते हैं, जो ब्रेकआउट को कम करने में मदद कर सकते हैं।

दोस्तों हम आपको यह बताना चाहेंगे कि ध्यान देने योग्य एक सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि लंबे समय में, आपका शरीर एंटीबायोटिक दवाओं के लिए प्रतिरोधी बन सकता है, जिससे वे कम प्रभावी हो सकते हैं।

यही कारण है कि शुरू से ही आपके चेहरे का त्वचा विशेषज्ञ द्वारा बताए गए नियमों का पालन करना महत्वपूर्ण है ताकि आप अपने निर्धारित उपचार का अधिक से अधिक लाभ उठा सकें। इसके अलावा, अपने डॉक्टर से अन्य दवाओं के बारे में बात करें जो आप यह सुनिश्चित करने के लिए ले रहे हैं कि कोई हानिकारक बातचीत नहीं होगी।

11. तनाव कम करने वाली गतिविधियों को आजमाएं

दोस्तों ऐसा काफी बार देखा गया है कि हमारे शरीर में किसी न किसी तनाव से हमें पिंपल होता है इसीलिए बहुत सारे रिसर्च में यह पता किया गया है कि तनाव से पिंपल्स नहीं होते, लेकिन यह उन्हें और खराब कर सकता है। अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी के एक  शोध अनुसार, यह पता चला है कि जब आप तनावग्रस्त होते हैं, तो आपका शरीर अधिक तेल-उत्तेजक हार्मोन का उत्पादन करता है।

तनाव से मुक्त होने के लिए और अपने  शरीर को  अच्छा महसूस करवाने के लिए आप  बहुत सारा कार्य कर सकते हैं तनाव को प्रबंधित करने में आपकी मदद करने के लिए कुछ विकल्प हैं जैसे कि :-

  1. योग
  2. ध्यान
  3. जर्नलिंग
  4. ममालिश
  5. अरोमाथेरेपी
  6. व्यायाम


सूर्य नमस्कार कैसे करें व इसके फायदे | Surya Namaskar Benefits And precautions In…

12. कुछ खाद्य पदार्थों से बचें

आपका आहार भी मुँहासे और  पिंपल्स पैदा करने का एक कारक हो सकता है।  प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ, डेयरी उत्पाद, शराब, और परिष्कृत शर्करा त्वचा के मुद्दों के आम अपराधी हैं। इसलिए आप कोशिश करें कि आप इन सब खाद्य पदार्थों के चीजों को आपसे सीमित मात्रा में खाएं। इन खाद्य पदार्थों के सेवन को कम करने से आपके ब्रेकआउट को कम करने में मदद मिल सकती है।

यदि कमी आपके मुंहासों को भड़कने में मदद नहीं करती है, तो आप कारण को अधिक स्पष्ट रूप से पहचानने के लिए उन्मूलन आहार की कोशिश कर सकते हैं। आमतौर पर, उन्मूलन आहार के लिए सामान्य प्रोटोकॉल 23 दिनों के लिए डेयरी, लस, अंडे, सोया, फास्ट फूड और शराब को खत्म करना है।

यह बहुत चरम लग सकता है, लेकिन 23 दिनों के बाद, आप इन सभी खाद्य पदार्थों को एक बार में अपने आहार में शामिल करना शुरू कर सकते हैं, और अपनी त्वचा में होने वाले किसी भी बदलाव को रिकॉर्ड कर सकते हैं। यह सभी बदलाव आपको यह पहचानने की अनुमति देता है कि क्या इनमें से कोई भी खाद्य पदार्थ वास्तव में आपके लिए मुँहासे ट्रिगर कर रहे हैं।

आपको किसी भी नए प्रकार के आहार को शुरू करने से पहले, अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए कि आप अभी भी स्वस्थ मात्रा में कैलोरी का उपभोग कर रहे हैं और शरीर के अनुसार हर दिन पोषक तत्व ले रहे हैं ।

Parsley क्या है Parsley के फायदे और नुकसान

[अंतिम विचार, Conclusion]

दोस्तों आशा करता हूं कि आपको मेरा यह लेख चेहरे से कील मुंहासे हटाने के अचूक घरेलू उपाय पर आपको बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख के मदद से वह सभी जानकारी को पूरे विस्तार से जान चुके होंगे जिसके लिए आप हमारे वेबसाइट पर आए थे।

हमने इस लेख में सरल से सरल भाषा का उपयोग करके आपको मुंहासे हटाने के अचूक घरेलू उपाय से जुड़ी सभी जानकारी देने की कोशिश की है और यह भी बताया है कि आप अपने चेहरे के मुहासे और पिंपल्स को कैसे हटा सकते हैं दोस्तों हमें इस लेख में बहुत सारे तरीकों को जाना है जिसकी मदद से कोई भी अपने चेहरे पर के मुंहासे को हटा सकता है।

इसके अलावा हमने इस आर्टिकल में आपको यह भी बताया है कि मुँहासा (acne) किसे कहते हैं? और मुँहासे कितने प्रकार के होते हैं, इसके अलावा आर्टिकल के अंत में हम लोग बात की है कि मुँहासे क्यों निकलते हैं और उन मुँहासे का निकलने का पीछे कारण क्या होता है दोस्तों हमने इस आर्टिकल में मुँहासे और पिंपल से जुड़ी सभी जानकारियों को सरल से सरल भाषा का उपयोग करके पूरा विस्तार से बताया है दोस्तों यदि आप इस आर्टिकल को पूरा अंत तक पढ़े होंगे तो हमें पूरा विश्वास है कि आप  यह जान गए होंगे कि चेहरे से कील मुंहासे हटाने के अचूक घरेलू उपाय क्या क्या होते हैं।

अगर दोस्तों आपको इस पोस्ट में कहीं भी कोई भी किसी भी तरह को,पढ़ने में या किसी भी चीज में कोई भी दिक्कत हुई होगी तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में बेझिझक कुछ भी सवाल पूछ सकते हैं।

हमारी समूह आपकी मैसेज के रिप्लाई जरूर देगी और आप यह भी कमेंट में जरूर बताएं कि चेहरे से कील मुंहासे हटाने के अचूक घरेलू उपाय के बारे में जानकारी पर यह पोस्ट लगा ताकि हम आपके लिए दूसरे पोस्ट ऐसे ही लाते रहे। तो चलिए दोस्तों इसी जानकारी के साथ हम अब इस लेख को समाप्त करते हैं और अगर आपको हमरा यह पोस्ट को पढ़ने के लिए दिल से धन्यवाद………

भांग के बीज के फायदे और नुकसान | Benefits and Side effects of Hemp…

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version