नमस्कार दोस्तों आशा करता हूं आप बिल्कुल ठीक होंगे आपका हार्दिक स्वागत है हमारा इस लेख में आज के इस लेख के मदद से हम Parsley क्या है Parsley के फायदे और नुकसान के बारे में संपूर्ण जानकारी पूरे विस्तार से प्राप्त करने वाले हैं और इसके बारे में हम जानने भी वाले हैं।

भारत में आम तौर पर कई सारे बेहतर तरह के जड़ी बूटियां पाई जाती हैं जिनका उपयोग हम खाने के साथ-साथ अपने भोजन में स्वादिष्ट बनाने के लिए भी करते हैं। जड़ी बूटियों और सब्जियों में से एक है पर्सले जिसका उपयोग हम अगर नियमित तौर पर करें तो जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होता है।

मगर दोस्तों भारत में कई सारे लोग ऐसे भी हैं जो जानना चाहते हैं कि आखिर पार्सले क्या है और पार्सले के फायदे क्या क्या है और पार्सले और धनिया में फर्क क्या होता है और पार्सले के नुकसान क्या क्या होता है  तो हम सभी ने मिलकर के इन सभी लोगों का इस समस्याओं को हल करने के लिए इस लेख को लिखा था। और हमने इस लेख में पार्सले से जुड़ी सभी जानकारी को स्टेप बाय स्टेप करके आपको बताया है।

दोस्तों अगर आप सच मे पर्सले से जुड़ी सभी जानकारी को प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से मेरा यह अनुरोध है कि आप मेरे इस लेख को ध्यान से पूरे अंत तक पढ़े तभी आपको मेरा यह लेख अच्छे से समझ में आएगा। तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं इस लेख को बिना देरी किए हुए और पार्सले से जुड़ी सभी जानकारी को प्राप्त करते हैं।

भांग के बीज के फायदे और नुकसान | Benefits and Side effects of Hemp Seeds in Hindi

Parsley क्या है (What is Parsley in Hindi?)

Parsley: Health Benefits, facts, and research

दोस्तों अगर आपके मन में यह ख्याल है कि आखिर पार्सले क्या होता है तो आप हमारे इस टॉपिक के साथ अंत तक बने रहिए क्योंकि हम आपको बताएंगे कि पार्सले क्या है तो हम आपके जानकारी के लिए बता दें कि पारस्ले एक ऐसा पौधा है जो कि बिल्कुल धनिया की तरह दिखता है।

लेकिन यह धनिया से बहुत अलग होता है और इसका स्वाद में भी अंतर होता है दोस्तों यह धनिया के जैसा सिर्फ दिखता है। इसका ताना मोटा होता है और इसकी पत्तियां छोटे के साथ-साथ घुंघराले होते हैं। इसको आमतौर पर देखे तो यह एक विदेशी हर्ब हैं  लेकिन अब पर्सले  भारत में भी पर्सले का उपयोग भोजन पकाने के लिए किया जाने लगा हैं।

यह स्वादिष्ट के साथ-साथ काफी आकर्षक दिखता है क्योंकि इसमें छोटी-छोटी घुंघराले पत्ते हरे होते हैं और यह मन के बहुत ज्यादा लुभाते हैं। आम तौर पर इसे मध्य पूर्वी, अमेरिका और यूरोप के देशो में खाने को मजेदार, टेस्टी और आकर्षक बनाने के लिए उपयोग किया जाता हैं।

हालांकि या भारत में भी काफी अच्छी तरह से पाया जाता है मगर इसका उपयोग पहले नहीं किया जाता था लेकिन इसके फायदे के बारे में देखते हुए अब भारत के लोग भी इसका उपयोग काफी बेहतर तरीके से कर रहे हैं।

पर्सले का उपयोग लोग अपने खाने में कई तरह से करते हैं कई लोग इसे हरा के साथ ही काट देते हैं तो कई लोग इस को सुखा कर पीस कर अपने खाने में इस्तेमाल करते हैं हम अगले टॉपिक में  इससे जुड़ी कुछ जानकारी प्राप्त करेंगे और फायदे और नुकसान के बारे में भी विचार विमर्श करेंगे।

खरबूजे के फायदे, उपयोग और नुकसान क्या आप जानते हैं |Muskmelon Benefits, Use and Side Effects in Hindi

पार्सले में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व | Nutrients of Parsley in Hindi

This TikTok Hack Will Make Stemming Parsley Easier | EatingWell

दोस्तों अगर आपके मन में ख्याल है कि पारस्ले में कौन-कौन सी पौष्टिक आहार और औषधीय गुण पाए जाते हैं तो आप हमारे इस टॉपिक के साथ बने रहे क्योंकि हमने आपको इस टॉपिक में बताया है कि पारस्ले में कौन-कौन सी पोस्टिक आहार और औषधीय गुण पाए जाते हैं तो चलिए शुरू करते हैं ।

इस टॉपिक को हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पार्सले में विटामिन सी ( Vitamin C), विटामिन ए ( Vitamin A), विटामिन ई ( Vitamin E), विटामिन के ( Vitamin K), विटामिन बी 6  ( Vitamin B6), पोटैशियम  ( potassium ),  कैल्शियम ( calcium ) , मैग्नीशियम ( magnesium ), आयरन ( iron ) , विटामिन बी 12 ( Vitamin B 12 ), फॉस्फोरस ( phosphorus ), फोलेट (Folate), कार्बोहाइड्रेट ( carbohydrate ), सोडियम ( sodium ), फाइबर ( fibre ) , फैटी एसिड ( fatty acid ), कैरोटीन, अमीनो एसिड (Amino Acid), प्रोटीन ( protein ), थाइमिन, राइबोफ्लेविन (Riboflavin), एंटीऑक्सीडेंट ( antioxidant ) और एंटी-इंफ्लेमेटरी तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। तो दोस्तों कुछ इस तरह के पौष्टिक आहार और औषधीय गुण इस पारस्ले में पाए जाते हैं

हींग के फायदे और नुकसान | Benefits of Asafoetida in Hindi | Asafoetida Meaning in Hindi

पार्सले के फायदे | Benefits of Parsley in Hindi

Green A Grade Curled Parsley Vegetables, Rs 110 /kilogram(s) Siddhesh Agro  | ID: 2284653188

दोस्तों अगर आपके मन में ख्याल है कि आखिर पारस्ले का फायदे क्या होते हैं तो आप हमारे इस टॉपिक के साथ अंत तक बने रहिए क्योंकि हमने आपको इस टॉपिक में बताया है कि पारस्ले के क्या-क्या फायदे हैं ।

तो आओ चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए वैसे तो पार्सले के बहुत सारे फायदे हैं मगर हमने आपको नीचे में कुछ बेहतरीन फायदे को पूरे विस्तार से बताया है और यह भी बताया है कि वह आपके शरीर में किस तरह से फायदे करता है तो चलिए जान लेते हैं।

स्तन कैंसर की समस्या में यह फायदेमंद साबित होता है | Helps in preventing breast cancer

दोस्तों इसके बारे में मुझे आपको कोई खास बात बताने की जरूरत नही है कि हमारे शरीर में कई तरह के tissue होते हैं जब यह अलग अलग तरह के tissue हमारे शरीर में लगातार बढ़ते हैं तो tissue के टुकड़े खून के रास्ते हमारे शरीर के अन्य तरह तरह के हिस्सों में पहुंचकर अपने लिए नई जगह नई जगह का विस्तार करते और हमारे शरीर के विकास करते हैं जिसको हम मेटास्टेसिस के नाम से भी जानते हैं।

जब महिलयों के स्तन के स्थाम में डक्ट के रूप में छोटे कैल्शिफिकेशन में थके थके बन जम जाते हैं तो यह महिलाओं के स्तन के tissue में छोटी छोटी गांठ का रूप ले लेती है यही आगे चल कर स्तन cancer का कारण भी बनती है। तो दोस्तों अगर आप पारस्ले का उपयोग नियमित रूप से करते हैं तो यह आपके शरीर में tissue को फ्रेश रखता है और यह आपके खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा को भी बैलेंस रखता है।

यूरिन रोगों को कम करने में है लाभकारी | Reduce urine problems with Parsley in Hindi

दोस्तों आपको मालूम ही गोगा की यूरिन रोग एक तरह का नहीं होते बल्कि यह रोग कई अलग अलग तरह के होते हैं। अगर आपके यूरिन में  इन्फेक्शन है और आपके इंफेक्शन में मूत्र बार-बार आने लगता है या आपके शरीर से मूत्र कम आता है या गाइस कभी कभी इसके अलावा मूत्र में थोड़ी बहुत जलन होने लगती है।

तो हम आपके जानकारी के लिए बता दें की आपके यूरिन के इन्फेक्शन मूत्र प्रणाली के किसी भी भाग या अंधरोनी में हो सकता है।

कई बार मूत्र संक्रमण तरह तरह के बैक्ट्रिया के वजह से भी हो जाता है तो कई बार अनियमित दिन चर्या के वजह सर भी यह समस्या हो जाता है। तो अगर आप पर्सले नियमित रूप से उपयोग करते हैं तो आपको यह समस्या होने की शान से कम हो जाती है क्योंकि यह आपके शरीर में इन्फेक्शन को दूर करता है और आपके यूरिन को एकदम फ्रेश बाहर निकालता है ।

हड्डियों को बलशाली बनाता है पार्सले | Keep your bones strong with Parsley in Hindi

दोस्तों आपको मालूम ही होगा कि मजबूत और बलशाली हड्डियों का निर्माण आमतौर पर कैल्शियम, फॉस्फोरस, प्रोटीन और के अलावा कई तरह के minerals और कुछ आवश्यक की पर्याप्त मात्रा के सेवन करने से ही होता है।

क्या आपको पता है कि जब हमारे शरीर को आवश्यकता नुसार vitamins और minerals नहीं मिलते हैं तो हमारे मजबूत हड्डियां धीरे धीरे ही कमजोर होने लगती हैं जिसकी वजह से हमारे शरीर मे लोग गठिया, कमर दर्द, जोड़ों में दर्द, आदि जैसे तरह तरह के समस्याओं से पीड़ित हो जाते हैं और उनको बहुत दिक्कत होता है।

हमारे हड्डियों को अच्छे तरह से मजबूत बनाने का मेरे हिसब से सबसे सस्ता ओर घरेलू उपाय  और यह आप खुद से कर सकते हो यदि आप आप पर्सले का उपयोग नियमित रूप से करते है तो पार्सले में पाय जाने वाले फॉस्फोरस, कैल्शियम, प्रोटीन मुख्य रूप से हमारे शरीर के हड्डियों को बलशाली बनाते हैं। और हमारे शरीर को बहुत मजबूत बनाती है।

किडनी के लिए है फायदेमंद | Beneficial for Kidney

दोस्तों आपको मालूम ही होगा कि कई सारे लोगों को किडनी में पथरी जैसे समस्या हो जाती है तो कई लोगों की किडनी में किसी भी कारण से पानी भर जाता है। गाइस कुछ इस तरह के ऐसी ही किडनी से सम्बंधित पूरी तरह के समस्या से आज कई लोग जूझ रहे हैं।

तो यदि आप वर्तमान समय में आगे बढ़ रहे इस तरह के रोगों से अपनी किडनी की सुरक्षा बेहतर तरह से करना चाहते हैं तो आप पर्सले का उपयोग अच्छे ढंग से कर सकते हैं।

और हम आपके जानकारी के लिए बता दे कि पार्सले का रस और अवसाधिये गुण विषाक्त पदार्थों को हमारे शरीर से बाहर निकाल कर हमारे  किडनी को पूर्ण रूप से स्वस्थ बनाने में बहुत मदद करता है तो कुछ इस तरह से पर्सले हमारे किडनी के लिए फायदेमंद साबित होता है।

आयरन की कमी को करता है दूर | It fulfill Iron deficiency

दोस्तों जब आपके शरीर में आयरन की कमी हो जाती है और जब आप डॉक्टर से सलाह लेने जाते हैं तो आमतौर पर डॉक्टर यही सलाह देता है कि आप ज्यादातर हरी सब्जियों और हरी पत्तियों की सेवन करें क्योंकि उनमें आयरन की मात्रा काफी अच्छी खासी होती है और दोस्तों यह पार्सले में भी आयरन काफी और अच्छे खासे मात्रा में पाया जाता है।

क्योंकि इसकी पत्तियों भी काफी हरी होती है और इसमें आयरन की मात्रा भी अच्छी होती है और अगर आप इसका नियमित रूप से उपयोग करते हैं और सेवन करते हैं तो आओ के शरीर में आयरन की कमी कभी नहीं होने वाली है क्योंकि इसमें आयरन अच्छी खासी मिल जाती है।

आँखों की सूजन और त्वचा के लिए है फायदेमंद | It is beneficial for eyes & skin

दोस्तों मुझे आपको इस बारे में कुछ खास जानकारी देने की जरूरत नहीं है कि हमारे शरीर में सबसे मुलायम और कोमल त्वचा आंखें ही होती है। आमतौर पर दिनचर्या में सबसे ज्यादा उपयोग होने वाला आऊंगा आंख ही है क्योंकि इसे लगभग 12 घंटे तक खुला ही रखना पड़ता है तो इस भागदौड़ की जिंदगी में है इस पर बहुत ज्यादा जोर पड़ता है।

अगर इसको सही मात्रा में पोषण नहीं मिलता है तो यह धीरे-धीरे अब रोग ग्रस्त होने लगता है और यह खराब की ओर जाने लगता है और इसमें कई सारे अलग-अलग तरह से भी आंख ग्रस्त हो सकता है मगर दोस्तों आप पर्सले का उपयोग अपने जीवन में नियमित रूप से करते हैं तो आपकी आंख में आने वाली समस्याओं को हो या काफी हद तक काम करता है। क्योंकि इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व आपके आंखों की रक्षा काफी अच्छी तरह से करते हैं

ब्लड प्रेशर को करता है नियंत्रित | Parsley controls your blood pressure

दोस्तों आपको मालूम ही होगा कि हमारे शरीर में ब्लड प्रेशर का बढ़ना या घटना हमारे शरीर के लिए बहुत ही हानिकारक होता है। जो लोग इस तरह के समस्या से पीड़ित होते हैं उनको ब्लड प्रेशर को  नियंत्रित कर ने के लिए आमतौर पर  ब्लड प्रेशर की दवाई का सेवन करना ही पड़ता है और आपको मालूम होगा कि दवाई का अद्धिक सेवन करने से हमारी किडनी पर भी काफी ज्यादा असर पड़ता है ।

यदि आप दवाई का इस्तेमाल किये बिना अपने शरीर के ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में करना चाहते हैं तो आप पर्सल का उपयोग अच्छे ढंग से कर सकते हैं। दरअसल पार्सले में फोलिक एसिड और फाइबर काफी अच्छे मात्रा में पाया जाता है जो ब्लड प्रेशर को बेहतर तरह से नियंत्रित करने में मदद करता है।

मुंहासों और झुर्रियों से दिलाए मुक्ति | Parsley helps you to get rid of pimples

दोस्तों अक्सर हम लोग के पेट की खराबी, पानी की कमी और हार्मोन्स के बदलाव के कारण त्वचा पर झुर्रियां और मुँहासे हो जाती हैं जो एक जवान व्यक्ति को भी बूढ़ा आदमी जैसा बना देती हैं। पार्सले एक ऐसी जड़ी बूटी है जो त्वचा सम्बन्धी सभी विकारों को सरलता से खत्म करती है।

जिन लोगों के चेहरे पर मुँहासे और झुर्रियां हैं यह परेशानी सबके साथ अक्सर होता है  लेकिन हम आपको बता दें कि इसका एक उपाय है उनके लिए पार्सले बेहद ही गुणकारी और त्वचा के लिए अच्छी होती है क्यूंकि यह त्वचा पर से झुर्रियां और मुंहासों को खत्म करने वाले कई तरह के यौगिक तत्व और विटामिन्स पाए जाते हैं। जो आपके त्वचा को झुर्रियां और मुंहासों को खत्म कर देते हैं

पार्सले मुँह की दुर्गन्ध को करता है खत्म | It stops bad odor coming from the mouth

दोस्तों ऐसा आपने भी देखा होगा कि कभी-कभी पेट में कब्ज का होने  के कारण से किसी के भी व्यक्ति के मुँह में  खराब कीसिम का दुर्गन्ध आने लगती है।  लेकिन बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो मुँह की दुर्गन्ध आने के बावजूद  उस समस्या पर ध्यान नहीं देते हैं लेकिन मुँह की दुर्गन्ध को जानबूझकर अनदेखा करना किसी ख़राब बीमारी या खतरे से कम नहीं है।

कई बार बहुत सारे लोगों को मुंह से खराब दुर्गंध आने के कारण उनकी कई प्रकार की घातक रोग हो जाती हैं इसलिए इस रोग का सही समय पर उपचार करना काफी जरूरी है क्योंकि अगर इसे सही समय पर उपचार नहीं किया गया तो यह आगे जाकर बहुत खतरनाक समस्या खड़ा कर सकता है और यह एक घातक रोग बन सकता है।

अगर आप भी चाहते हैं कि इस समस्या से निजात पाएं तो आप पार्सले के इस्तेमाल कर सकते हैं और इसके इस्तेमाल करके आप अपने इस मुंह के दुर्गंध की समस्या को दूर कर सकते हैं दोस्तों हम आपको बता दें कि पार्सले में विटमिन सी, विटमिन के, और फोलिक अम्ल (Folic acid) पाया जाता है जो मुँह की दुर्गन्ध को काफी हद तक खत्म करने में फायदेमंद होता है। और आपकी मुंह को एक स्वस्थ और फ्रेश बनाता है

ओट्स क्या है? और ओट्स और दलिया में अंतर | What is Oats in Hindi and Benefits, Uses, difference in Hindi

पार्सले के अन्य फायदे | Some Other Benefits of Parsley in Hindi

Here's why you should include parsley in your daily diet - Times of India

दोस्तों जैसा कि हम लोग ऊपर टॉपिक में जाने हैं पार्सले के फायदे के बारे में तो हम आपको बता दें कि इसके अलावा पार्सले (Parsley) के और भी बहुत सारे फायदे हैं चलिए अब जानते हैं पार्सले के कुछ अन्य फायदे के बारे में,

  • पार्सले में विटामिन, एंटीऑक्सीडेंट, खनिज पदार्थ पाए जाते हैं जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में काफी ज्यादा मददगार होते हैं।
  • पार्सले में विटामिन E, विटामिन C, विटामिन और B12 मुख्य रूप से पाया जाता है जो किसी व्यक्ति के पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है। और जिसके वजह से भोजन का पाचन अच्छे से हो पाता है।
  • इसके अलावा और गॉल्स्टोन या गुर्दे की पथरी में पार्सले का जूस काफी ज्यादा फायदेमंद होता है।
  • Parsley कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) और मधुमेह (diabetes) को नियंत्रित करने के लिए काफी ज्यादा मदद करता है क्यों यह Parsley diabetes और कोलेस्ट्रॉल के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होता है।
  • पार्सले में एंटी-इंफ्लेमेटरी, विटामिन C, और एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो हमारे शरीर को कई तरह के संक्रमण रोगों से बचाने में काफी ज्यादा मदद करते हैं।

कलौंजी के सभी फायदे और उसके नुकसान | Kalonji Benefits and Side Effects in Hindi

पार्सले का उपयोग | Uses of Parsley in Hindi

पार्सले के बारे में इतना सब जानने के बाद अब चलिए जानते हैं कि पार्सले का उपयोग किस प्रकार कर सकते हैं। तो दोस्तों अगर आप भी पार्सले Parsley को इस्तेमाल करना चाहते हैं और नहीं जानते हैं कि पार्सले को किस प्रकार से इस्तेमाल किया जाता है तो आप हमारे इस टॉपिक को पूरा अंत तक ध्यान से पढ़ें तभी आप को इस पार्सले के उपयोग के बारे में संपूर्ण जानकारी मिल पाएगा। तो चलिए अब जानते हैं।

  • बेसन या सादा की सब्जी मे पार्सले को डालकर और सब्जी बनाकर पार्सले का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • अगर आप पार्सले का अधिक लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको प्रतिदिन काल जूस के रूप में इस पार्सले का उपयोग कर सकते हैं। तभी आप पार्सले का पूरा लाभ उठाना सकते हैं 
  • और इसके अलावा आप पार्सले का इस्तेमाल सूप, दही, और दाल जैसी रोजमर्रा के भोजन में डालकर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • पार्सले का उपयोग किसी भी सब्जी या जूस या डिश को गार्निश करने के लिए पार्सले का उपयोग किया जा सकता है।
  • इसके अलावा आप पार्सले का चटनी बनाकर भी पार्सले का उपयोग कर सकते हैं।
  • आप सलाद डिश में पार्सले को शामिल कर सकते हैं और सलाद के रूप में भी Parsley का  इस्तेमाल किया जा सकता है।

मकई का आटा (Cornflour) क्या है?  और  इसके फायदे और नुकसान  क्या है

पार्सले से होने वाले नुकसान | Side Effects of Parsley in Hindi

दोस्तों जैसा कि हम लोग जाने हैं कि पार्सले के उपयोग करने के बहुत सारे फायदे हैं लेकिन हमें यह नहीं भूलना चाहिए की जिस चीज का कुछ फायदा होता है तो उस चीज का कोई न कोई जरूर नुकसान होता है तो हम इस टॉपिक के माध्यम से पार्सले से होने वाले नुकसान के बारे में जानेंगे तो अगर आप भी जानना चाहते हैं कि पार्सले के नुकसान क्या-क्या होते हैं तो कृपया इस टॉपिक  को ध्यान से और पूरा अंत तक पढ़े।

  • इस पार्सले का काफी ज्यादा सेवन करने से सेंसटिव स्किन वाले लोगों के शरीर के त्वचा पर छोटे-छोटे दाने निकल सकते हैं।
  • पार्सले का काफी अधिक इस्तेमाल करने से उल्टी और दस्त की समस्या हो सकती है। इसलिए हम आपको सलाह देना चाहते हैं कि आप पार्सले का इस्तेमाल सिर्फ सीमित मात्रा में करें ना ज्यादा ना कम तभी आपके लिए यह पार्सले फायदेमंद होगा।
  • दोस्तों बहुत सारे लोग ऐसे हैं जिनको पार्सले का अधिक सेवन करने के कारण किसी भी तरह की एलर्जी हो सकती है। इसीलिए आप पारस्ले का इस्तेमाल का सोच समझ के और अच्छे से करें।
  • स्तनपान और गर्भवती महिलाओं को Parsley नुकसान कर सकता है इसलिए स्तनपान और गर्भवती महिलाओं को इस पार्सले का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। नहीं तो यह  उन गर्भवती महिलाओं के लिए काफी ज्यादा नुकसानदायक हो सकता है।

Baking soda उपयोग क्या है और Baking soda का फायदे और नुकसान क्या है

धनियां और पार्सले में अंतर | Difference between Coriander & Parsley in Hindi

Green Karnataka Coriander Leaves, Packaging: Mesh Bag, 250 Gms Bunch, Rs 90  /kg | ID: 22583107530

दोस्तों अगर आपके मन में यह ख्याल है कि आखिर पर्सले और धनिया में क्या अंतर है तो हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पर्सले और धनिया में बहुत ज्यादा अंतर होता है।

अक्सर कई लोग धनिया और पार्सले को एक ही पौधा समझ बैठते हैं ऐसा बिल्कुल भी नहीं है पहला बात तो यह है कि पार्सले और धनिया के स्वाद में बहुत ज्यादा अंतर होता है। अगर हम पार्सले और धनिया के मेन अंतर के बारे में बात करें तो पार्सले के पत्ते धनिया के पत्ते से घुंघराले और हल्का बड़े होते हैं वही धनिया के पत्ते पार्सले के पत्ते से हल्का सा छोटा होती है ।

आमतौर पर अगर हम पार्सले के पत्ते के बारे में बात करें तो पार्सले के पत्ते में धनिया और अजवाइन जैसी खुशबू आती है और अगर वही हम धनिया के महक के बारे में बात करें तो धनिया का एक अलग ही महक होता है जी की उसे खास बनाता है। वही दोस्तों पारस्ले का बीज बहुत छोटा होता है और वही अगर हम धनिया के बीज को देखें तो वह पारस्ले के बीज के तुलना में काफी बड़ा होता है। तो दोस्तों पर्सले और धनिया में कुछ इस तरह का फर्क होता है

[ Conclusion,निष्कर्ष ]

दोस्तो आशा करता हूं कि आपको मेरा यह लेख Parsley क्या है Parsley के फायदे और नुकसान आपको बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख के मदद से वह सभी जानकारी को पूरे विस्तार से प्राप्त कर चुके होंगे जिसके लिए आप हमारे वेबसाइट पर आए थे।

हमें इस लेख में सरल से सरल भाषा का उपयोग करके आपको पार्सले से जुड़ी सभी जानकारी देने की कोशिश की है क्योंकि हमें मालूम है कि कई सारे लोग ऐसे भी हैं जो जानना चाहते हैं कि आखिर पार्सले क्या है और पार्सले के फायदे क्या क्या है और पार्सले और धनिया में फर्क क्या होता है और पार्सले के नुकसान क्या क्या होता है तो हमने इन्हीं सभी समस्याओं को हल करने के लिए इस लेख को लिखा था।

और आप पर मेरा संपूर्ण विश्वास है कि आप सभी मेरे इस लेख को ध्यान से पूरे अंत तक पढ़ चुके होंगे और पार्सले से जुड़ी सभी जानकारी को प्राप्त कर चुके होंगे।

अगर दोस्तों आपको इस पोस्ट में कहीं भी कोई भी किसी भी तरह को,पढ़ने में या किसी भी चीज में कोई भी दिक्कत हुई होगी तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में बेझिझक कुछ भी सवाल पूछ सकते हैं।

हमारी समूह आपकी मैसेज के रिप्लाई जरूर देगी और आप यह भी कमेंट में जरूर बताएं कि यह पोस्ट Parsley क्या है Parsley के फायदे और नुकसान के बारे में जानकारी आपको कैसा लगा  ताकि हम आपके लिए दूसरे पोस्ट ऐसे ही लाते रहे। तो चलिए दोस्तों इसी जानकारी के साथ हम अब इस लेख को समाप्त करते हैं और अगर आपको हमरा यह पोस्ट को पढ़ने के लिए दिल से धन्यवाद………

Previous articleभांग के बीज के फायदे और नुकसान | Benefits and Side effects of Hemp Seeds in Hindi
Next articleअटल बिहारी वाजपेयी जीवनी | Atal Bihari Vajpayee biography in hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here