नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप लोग आशा करता हूं आप बिल्कुल ठीक होंगे आपका हार्दिक स्वागत है हमारी इस लेख में आज के इस लेख के मदद से हम फुटबॉल खेल का इतिहास व उसके नियम (Football history rules Facts in hindi) बारे में संपूर्ण जानकारी पूरे विस्तार से प्राप्त करने वाले हैं और इसके बारे में जानने भी वाले हैं। दोस्तों यदि आप Football खेल के प्रेमी है और फुटबॉल देखना और फुटबॉल खेलना पसंद करते हैं तो आपको फुटबॉल के इतिहास और इस फुटबॉल खेल के नियम के बारे में भी जरूर जानना चाहिए।

लेकिन दोस्तों बहुत सारे लोग ऐसे भी हैं जो फुटबॉल खेलते हैं लेकिन उनको अभी तक फुटबॉल खेलते सही नियम और इतिहास के बारे में कुछ भी जानकारी नहीं है दोस्तों यदि आप भी इन लोगों में से एक है आपको भी फुटबॉल के इतिहास और इस फुटबॉल खेल के नियम के बारे मे कुछ भी जानकारी नहीं है तो आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा अंत तक पढ़ सकते हैं क्योंकि इस आर्टिकल में हमने Football खेल के इतिहास लेकर फुटबॉल खेल के सभी नियम के बारे मे पूरा विस्तार से बताया है और यह भी बताया है कि फुटबॉल खेल का फोर्मेट क्या है।

इसके अलावा हमने इस आर्टिकल में दुनिया के 5 सबसे बड़े फुटबॉल टूर्नामेंट के बारे में बताएं जो पूरी दुनिया में मशहूर है और जिनको पूरी दुनिया में देखा जाता है दोस्तों यदि आप भी फुटबॉल के इन सभी जानकारियों से अछूत है और आपको इन सारे जानकारियों के बारे में कुछ भी ज्ञान नहीं है तो हमें आपसे अनुरोध है कि कृपया आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा अंत तक पढ़ें तो दोस्तों बिना कोई देरी के चलिए अब आज के इस लेख को शुरू करते हैं और फुटबॉल खेल का इतिहास व उसके नियम के बारे मे  पूरा विस्तार से जानते है।

भारतीय अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा का जीवन परिचय | Rakesh Sharma biography in Hindi

Football खेल का इतिहास (History Of Football Game)

दोस्तों इस टॉपिक में हम जानने वाले हैं Football खेल का इतिहास के बारे मे  दोस्तों यदि आप Football खेल के प्रेमी है और फुटबॉल देखना और फुटबॉल खेलना पसंद करते हैं तो आपको फुटबॉल के इतिहास के बारे में भी जरूर जानना चाहिए दोस्तो यदि आप नहीं जानते हैं कि फुटबॉल खेल इतिहास कितना पुराना है और फुटबॉल खेल कब से खेला जा रहा है ।

तो आपको हमारे इस टॉपिक को जरूर पढ़ना चाहिए क्योंकि इस टॉपिक में हमने फुटबॉल खेल के इतिहास से जुड़ी सभी जानकारियों को बताया है तो दोस्तों बिना कोई देरी के चलिए अब इस टॉपिक को शुरू करते हैं और Football खेल का इतिहास के बारे मे  जानते है।

Football शब्द की उत्पत्ति के बारे में  बहुत सारे लोगों का काफी अलग अलग राय है। जैसा कि हम लोग जानते हैं कि इस फुटबॉल खेल के दौरान गेंद को पैर से मारना होता है, जिसके कारण इस खेल का नाम फुटबॉल पड़ गया। हालाँकि इस  फुटबॉल नाम की उत्पत्ति का वास्तविक स्त्रोत की जानकारी  उपलब्ध नहीं है। फीफा के अनुसार Football एक चीनी खेल सूजु का विकसित रूप है।

यह खेल चीन में ह्याँ वंश के दौरान विकसित हुआ था। इस खेल को जापान असुका वंश के शासन काल में केमरी के नाम से यह फुटबॉल खेला जाता था। उसके बाद  कालांतर में 1586 ई० में यह जॉन डेविस नाम के एक समुद्री जहाज के कप्तान के कार्यकर्ताओं द्वारा Greenland देश में  इस फुटबॉल  खेल को खेला गया। फुटबॉल के विकास के सफरनामे को रोबर्ट ब्रौज स्मिथ ने सन 1878 में एक किताब की शक्ल में पेश किया था।

पंद्रहवीं शताब्दी में फुटबॉल (Football In The 15th Century)

Oldest football clubs - Wikipedia

पंद्रहवीं सदी में स्कॉटलैंड देश में फुटबॉल नाम का ही एक खेल खेला जाता था जो काफी मशहूर था, जहा 1424 ई में Football एक्ट के अंतर्गत प्रतिबंधित कर दिया गया था, हालाँकि यह प्रतिबन्ध  फुटबॉल खेल से बहुत जल्द ही हटा लिया गया, लेकिन तब तक सभी लोगों में इस खेल को लेकर रूचि  पूरी तरह से समाप्त हो गयी थी और यह खेल पहले जैसा लोकप्रिय और मसूर नहीं रहा और एक लम्बे समय के बाद उन्नीसवीं शताब्दी में इसका पुनर्जन्म देखने मिलता है| हालाँकि इस दौरान कई अन्य दूसरे स्थानों पर यह फुटबॉल  खेला जा रहा था।

उसके बाद वर्ष 1409 ई० में Britain के राजकुमार हेनरी चतुर्थ ने पहली बार अंग्रेजी में ‘football फुटबॉल’ शब्द का इस्तेमाल किया था। इसके साथ ही लैटिन में भी इसका एक विस्तृत इतिहास रहा है। सब कुछ मिलाकर यह कहा जा सकता है, कि आज काफी छोटा सा दिखने वाला football अपने आप में ही एक बहुत लम्बा इतिहास समाहित किये हुए है।

दोस्तों यदि हम बात करें कि भारतीय फुटबॉल संघ के इतिहास के बारे में तो भारतीय फुटबॉल संघ (IFA) वर्ष 1893 में स्थापित हुआ हालाँकि, वर्ष 1930 के दशक तक इस भारतीय फुटबॉल संघ के बोर्ड में एक भी भारतीय  लोग नहीं थे।  उसके बाद फिर वर्ष 1898 में, भारत में सबसे पुराना और  विश्व के तीसरा सबसे पुराना football tournament में डूरंड कप फुटबॉल tournament शिमला में शुरू किया गया था। टूर्नामेंट का उद्घाटन भारत के तत्कालीन विदेश सचिव सर मोर्टिमर डूरंड द्वारा इस फुटबॉल टूर्नामेंट खेल को आयोजित किया गया था और उनके नाम पर रखा गया था।

फुटबॉल में भारतीयों के लिए पहली उल्लेखनीय उपलब्धि 1911 में आई, जब मोहन बागान एसी आईएफए-शील्ड trophy जीतने वाली  भारत की पहली भारतीय टीम बनी। trophy पहले केवल भारत में स्थित ब्रिटिश टीमों द्वारा जीती गई थी।

इस जीत को अभी भी भारतीय football खेलो के इतिहास की सबसे बड़ी  और यादगार उपलब्धियों में से एक माना जाता है। मोहन बागान एसी की आईएफए-शील्ड ट्रॉफी जीतने की भारी सफलता के बाद, football tournament और Football Club  काफी तेजी से फैल गए। फुटबॉल क्लबों की बढ़ती संख्या ने 1937 में अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (AIFF) का गठन किया।

उसके बाद 1951 से 1962 के दशक को भारतीय फुटबॉल के इतिहास में स्वर्ण युग के रूप में जाना जाता है, क्योंकि भारत देश ने कई सारी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में सराहनीय किया। भारत ने क्रमशः नई दिल्ली और जकार्ता में आयोजित 1951 और 1962 के एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीते और 1956 के मेलबर्न ओलंपिक में Olympic फुटबॉल semi final में पहुंचने वाला यह पहला Asian देश बन गया। या भारतीय राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के अलावा विभिन्न भारतीय Football Club ने भी विभिन्न अंतरराष्ट्रीय football tournament में शानदार प्रदर्शन किया है।

BATTLEFIELD 2042 REVIEW

20वीं सदी में फुटबॉल (Football In The 20th Century)

SportMob – Best football players in the 20th century

दोस्तों चली आप जानते हैं कि बीसवीं सदी में फुटबॉल को किस तरीके से देखा जाता है और इसे किस प्रकार से खेला जाता है दोस्तों हम आपको बता दें कि 20 वीं सदी में इस फुटबॉल खेल को एक ऐसे संस्था की आवश्यकता होने लगी, जो इस  फुटबॉल खेल की देखभाल नियमित रूप से कर सके। English Football Association की तरफ से कई ऐसी सभाएं आयोजित की गयीं जहाँ से एक अंतर्राष्ट्रीय स्तर की संस्था का निर्माण किया जा सके ।

फलस्वरूप यूरोप के सात सबसे बड़े देश  जैसे कि फ्रांस, डेनमार्क, बेल्जियम, नीदरलैंड, स्वीडन, स्पेन और स्विटज़रलैंड ने मिलकर 21 मई  वर्ष 1904 में ‘Federation International of football Association’ (FIFA) की स्थापना की गई थी, और उसके बाद इस Federation International of football Association पहले अध्यक्ष रोबर्ट गुएरिन को नियुक्त किया गया था।

फुटबॉल के इतिहास के कुछ रोचक तथ्य (Football history facts)

दोस्तों यदि आप फुटबॉल खेल के दीवाने हैं और इस गेम को देखना और खेलना पसंद करते हैं तो आपको इस खेल से जुड़ी इतिहास के बारे में भी जान लेना चाहिए दोस्तों इस टॉपिक में हम लोग फुटबॉल खेल इतिहास की कुछ प्रमुख तथ्यों की झलकियाँ नीचे दी जा रही हैं. तो आप इस टॉपिक को पूरा ध्यान से जरूर पढ़ें तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को और जानते हैं फुटबॉल खेल के इतिहास के कुछ रोचक तथ्य के बारे में,

  • सन 1486 में ये कहा गया कि football एक खेल होने से अधिक एक विशेष  प्रकार के गेंद है. यह कथन सैंट अलबन्स की किताब में  कहां गया था .
  • सन 1526 में England  देश के राजा King Henry अष्टम ने football खेलने के लिए पहली बार एक ऐसा जोड़ी जूता बनाने दी, जिसे पहन कर फुटबॉल खेल को बहुत आसानी से खेला जा सके.
  • सन 1580 में Sir Philip Sydney की एक कविता में महिलाओं के द्वारा एक विशेष तरह का football खेलने का वर्णन आया है.
  • 16 वीं सदी के अंत और 17 वीं सदी के  शुरुआत में पहली बार  इस फुटबॉल खेल में मुकाबले की भावना को लाने के लिए खेल में ‘गोल’ की धारणा का अविर्भाव हुआ. इसके लिए  फुटबॉल के खिलाडियों ने मैदान में दो विपरीत शीर्ष में झाड़ियाँ लगा कर गोल पोस्ट का निर्माण किया. उस समय आठ अथवा बारह गोल का एक मैच खेला जाता था.
  • मध्य युग से ही football खेल पर सदा बैन का संकट कायम रहा.
  • सन 1314 में पहली बार ये कानून ब्रिटन देश में पारित हुआ. इसके बाद अठारहवीं सदी में इसे सशस्त्र विरोध का सामना करना पडा.
  • सन 1921 में  इंग्लैंड के इंलिश और स्कॉटलैंड के स्कॉटिश football league में महिलाओं का खेलना निषेध हो गया. हालाँकि इस बैन को सन 1970 में पुनः हटा लिया गया.
  • वे महिलाएं जो football खेल  में अपना टैलेंट और जज्बा दिखाना चाहती हैं, उन्हें आज आधुनिक युग में भी कई  सारे मुश्किलों का सामना करना होता है.

फुटबॉल वर्तमान में (Football in present)

वर्तमान के समय में फुटबॉल बहुत ही बड़े पैमाने पर खेला जा रहा है. और इसके कई मुकाबले राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर  आयोजित किए जाने लगे हैं. इसके अतिरिक्त कई फूटबाल क्लबों की स्थापना राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हो चुकी है. इस  फुटबॉल खेल का सबसे बड़ा मुकाबला Football World Cup का होता है. जिसमें बहुत सारे देश की बहुत सारे टीम मुकाबला करती है और जो टीम अच्छी परफॉर्मेंस दिखाती है और अच्छा खेल दिखाती है उस टीम को  विश्व के सबसे महान फुटबाल टीम जाना जाता है।

और उस टीम को Football World Cup दिया जाता है  यदि हम वर्तमान समय के कुछ  अच्छे-अच्छे फुटबॉल खिलाड़ी की है बात करें तो रोनाल्डिन्हो, लियोलें मेस्सी, नेमर, रोनाल्डो,  सुनील छेत्री आदि कई नाम इस तरह दुनिया भर में मशहूर हुए कि आज के समय में युवा वर्ग इस फुटबॉल खेल के प्रति बहुत अधिक सजग दिखता है.

फुटबॉल खेल का फोर्मेट (Football games formate)

दोस्तों इस टॉपिक में हम लोग जाने वाले हैं फुटबॉल खेल का फोर्मेट के बारे में तो यदि आप फुटबॉल खेलते हैं और आपको फुटबॉल खेल का फोर्मेट के बारे कुछ भी जानकारी नहीं है तो आप हमारे इस टॉपिक को पूरे अंत तक पढ़े। तो बिना कोई देरी किए चलिए इस टॉपिक को शुरू करते हैं और फुटबॉल खेल का फोर्मेट के बारे में जानते हैं।

इस फुटबॉल खेल में किसी भी दल का उद्देश्य नब्बे मिनट के इस फुटबॉल खेल के दौरान अधिक से अधिक गोल करने का होता है. प्रत्येक दल में ग्यारह खिलाड़ी मौजूद होते हैं. इस फुटबॉल खेल में 90 minute के खेल के दौरान 45 minute पर एक break होता है, जिसे फुटबॉल खेल में हाफ टाइम कहते हैं. ये half time पूरे 15 minute का होता है ।

इसके बाद का 45 मिनट तक यह फुटबॉल गेम का समय लगातार चलता रहता है. इस दौरान यदि कोई फुटबॉल खिलाडी घायल हो जाता है, या किसी वजह से उसे चोट लग जाता है तो ‘इंजरी टाइम’ के तहत कुछ देर के लिए इस खेल स्थगित हो जाता है. इसके बाद पुनः उस खेल को शुरू किया जाता है।

आधुनिक फुटबॉल गेंद (Football ball)

दोस्तों जैसा कि हम लोग जानते हैं कि फुटबॉल  खेल के शुरूआती समय में फुटबॉल गेंद जानवरों की ब्लैडर से निर्मित होती थी. यानी कि उस फुटबॉल को बनाने के लिए जानवरों का चमड़ी का इस्तेमाल किया जाता था  जिससे इस फुटबॉल गेंद का आकार निश्चित रहने लगा.  लेकिन अब आज के इस आधुनिक समय में विकसित वैज्ञानिक तकनीक के सहारे कई बेहतर प्रकार के फुटबॉल गेंद बनाने वाली कंपनियाँ स्थापित हो गयी हैं, जो मैच, खिलाड़ियों की उम्र, मैदान आदि के मद्देनज़र फुटबॉल बना रही हैं ।

दोस्तों हम आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि फुटबॉल गेंद 58 सेमी से 61 सेमी के मध्य की परिधि का एक वृत्ताकार गेंद होती है. जो गोलाकार होती है।  और इसी कारण उस गेंद को फुटबॉल कहा जाता है। दोस्तों हम आपको बता दें कि फुटबॉल गेम क्रिकेट गेंद की तरह ही होती है लेकिन  इसमें फर्क बस इतना होता है कि यह क्रिकेट गेंद से थोड़ी बड़ी होती है।

फुटबॉल खेल का नियम (Football rules in hindi)

दोस्तों जैसा कि हम लोग जानते हैं कि समय समय पर यह फुटबॉल खेल  कई जगह पर विकसित होने की वजह से इसके कई नियम बन गये थे. हालाँकि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इसे हर जगह समय नियमों से खेला जाता रहा है.  यह फुटबॉल खेल लोकप्रिय हो जाने की वजह से इसके नियम इस तरह से बनाए गये कि हर देश के लोग इस  फुटबॉल खेल का आनद उठा सकें. नीचे एक एक करके नियमों की व्याख्या की जा रही हैं.

फुटबॉल के खिलाडी और खेल उपकरण : इस फुटबॉल। खेल के प्रत्येक टीम में ग्यारह खिलाड़ी होने चाहिए. इन ग्यारह खिलाडियों में एक goalkeeper और बाक़ी outfield player होते हैं. इस फुटबॉल खेल का मैदान आमतौर पर 120 यार्ड लम्बा और 75 यार्ड चौड़ा होता है. प्रत्येक गोल के सामने एक 6 यार्ड का बॉक्स खींचा हुआ होता है ।

इस फुटबॉल खेल के मैंदान के दोनों तरफ को इस तरह से सजाया और संभाला जाना चाहिए कि इस फुटबॉल मैदान एक आधा हिस्सा इसके दुसरे आधे हिस्से का मिरर इमेज लगे. इस खेल में इस्तेमाल होने वाले उपकरण मुख्यतः सिर्फ एक आला क़िस्म की football’ ही होती है. हालाँकि इसके अलावा खिलाड़ी घायल होने से बचने के लिए football बूट, पैडेड ग्लव्स, शिन पैड आदि पहनते हैं.

स्कोरिंग : इस  फुटबॉल के खेल में point score करने के लिए खेल के विरोधी दल के गोल पोस्ट में बॉल पंहुचाना होता है. और विरोधी दल के गोल पोस्ट में बॉल पंहुचाने  के बाद उस टीम को पॉइंट दे दिया जाता है।

और इसी प्रकार से टीम को point scoreमिलता है। ये गोल खेल के 90 minute के अन्दर ही करना होता है. क्योंकि यह खेल पर सिर्फ 90 मिनट का होता है इस समय के अन्दर दोनों  फुटबॉल टीम में अधिक गोल दागने वाले टीम की जीत होती है. एक गोल पोस्ट की ऊंचाई 8 फीट और चौड़ाई 8 यार्ड की होती है.

फुटबॉल खेल जीतने के नियम :  फुटबॉल खेल जीतने के लिए नियम कुछ इस प्रकार होते हैं कि किसी भी फुटबॉल टीम को जीतने के लिए अपने विरोधी फुटबॉल टीम से कुछ अधिक गोल करना होता है. खिलाड़ी अपने पैर से गेंद अपने साथी खिलाडियों को पास करते हुए विरोधी टीम के गोल तक पहुँचाते हैं.

फुटबॉल के मैदान में घास या तो प्राकृतिक रूप से या कृत्रिम रूप से उगाया हुआ होता है. मैदान को चतुर्भुजाकार रूप में चिन्हित किया होता है. साथ ही साथ मध्य वृत्त के पास दो छः यार्ड का box को बनाया हुआ होता है.

फुटबॉल के प्रत्येक दल किसी मैच के लिए सात अतिरिक्त खिलाडियों का नाम दर्ज करा सकता है. इस फुटबॉल खेल के दौरान किसी भी समय उन अतिरिक्त खिलाडियों को पहले से खेल रहे खिलाडियों की जगह पर खिलाया जा सकता है. मैदान में  फुटबॉल के खिलाडियों की कुल संख्या किसी भी समय 11 ही होती है. क्योंकि ऐसा नियम है कि किसी भी फुटबॉल टीम में 11 खिलाड़ी खेलना आवश्यक है।

फुटबॉल खेल के प्रत्येक मैच में  दो असिस्टेंट रेफरी और एक रेफ़री होते हैं. रेफरी इस फुटबॉल के खेल के दौरान समय निर्धारण, फ़ाउल, पेनाल्टी, फ्री किक, आदि का संचालन करता है. किसी भी निर्णय से पूर्व आमतौर पर रेफ़री एक बार असिस्टेंट रेफरी से विमर्श कर लेता है. फुटबॉल खेल के दौरान offside, थ्रो इन आदि का खयाल असिस्टेंट रेफरी करता है.

यदि इस फुटबॉल खेल खेलने के 90 मिनट के बाद भी खेल को अधिक समय की आवश्यकता होती है तो इसमें अतिरिक्त उस फुटबॉल खेल में 30 मिनट का समय जोड़ दिया जाता है. ये अतिरिक्त समय 15- 15 मिनट करके दो भागों में बंटा हुआ होता है.

खेल खेलने के अतिरिक्त समय के बाद भी यदि  वह फुटबॉल खेल निर्णय तक नहीं पहुँच पाया तो ऐसी स्थिति में पेनाल्टी शूटआउट होता है. गोल पूरी होने के लिए संपूर्ण गेंद का गोल लाइन क्रॉस करना अतिअनिवार्य है.

दोस्तों हम आपको बता दें कि फ़ाउल या किसी प्रकार की गलती के दौरान ग़लती किये हुए खिलाडी को रेफ़री उसकी गलती के अनुसार पीला कार्ड या लाल कार्ड दिखा कर उसे मैदान से बाहर कर सकता है. दोस्तों हम आपको बता दें कि फुटबॉल खेल में पीला कार्ड दिखाना मतलब की एक तरह की चेतावनी होती है और लाल कार्ड से खिलाडी मैदान से बाहर हो जाता है. यह तब दिखाया जाता है जब कार्ड दिखाने के बावजूद खिलाड़ी एक ही गलती को बार-बार दोहरा रहा हो।

ऑफ़साइड के नियम (Football offside rule)

दोस्तों यदि आप फुटबॉल खेल के प्रेमी है और फुटबॉल खेल देखना और खेलना पसंद करते हैं और यदि आपको फुटबॉल के साइड नियम के बारे में पता नहीं है तो आपको इसके बारे में जरूर जानना चाहिए दोस्तों यदि आप फुटबॉल के इस नियम के बारे में  कुछ भी नहीं जानते हैं और जानना चाहते हैं तो आप इस टॉपिक को पूरे अंक तक पढ़े  क्योंकि इस टॉपिक पर हम लोग हैं यही बताने वाले हैं तो चलिए इस टॉपिक को शुरू करते हैं और जानते हैं फुटबॉल खेल में ऑफ़साइड के नियम क्या क्या होते हैं।

यदि एक आक्रामक खिलाड़ी अंतिम Defender के सामने खड़ा हो जाए और अन्य फुटबॉल खिलाडियों द्वारा पास खेल दिया जाए, तो offside कॉल हो सकता है. आम तौर पर offside को इस तरह से डीजाईन किया जाता है. कि कोई फुटबॉल खिलाडी अपने विरोधी  टीम के पास कॉल के लिए अधिक देर तक ठहरा न रह सके. यदि कोई आक्रामक खिलाडी इस तरह अंतिम डिफेंडर खिलाडी के सामने खड़े होकर उसे रोकने की कोशिश करता है तो ऑफ़साइड कॉल होता है और Defender खिलाडी को एक फ्री किक का मौक़ा मिलता है ।

goalkeeper को अंतिम Defender के तौर पर नहीं पकड़ा जा सकता. यदि आक्रमक खिलाडी Defender के सामने खड़ा हो और गेंद को पीछे की तरफ खेला जाए तो offside कॉल नहीं होता है. इसी नियम को फुटबॉल खेल में ऑफ़साइड के नियम बोला जाता है  दोस्तों  यदि आप इस टॉपिक को विस्तार से पढ़े होंगे तो अब आप समझ गए होंगे कि फुटबॉल खेल में ऑफ़साइड के नियम क्या होते हैं।

टॉप 5 सबसे बड़ा फुटबॉल टूर्नामेंट (Top 5 biggest football tournament)

दोस्तों इस टॉपिक में हम जानने वाले हैं फुटबॉल खेल का टॉप 5 फुटबॉल tournament के बारे मे दोस्तों यदि आप Football खेल के प्रेमी है और फुटबॉल देखना और फुटबॉल खेलना पसंद करते हैं तो आपको टॉप 5 फुटबॉल tournament के बारे में भी जरूर जानना चाहिए दोस्तो यदि आप नहीं जानते हैं कि फुटबॉल खेल टॉप 5 फुटबॉल tournament कौन सा है और फुटबॉल खेल के सबसे मशहूर टूर्नामेंट कौन है ।

तो आपको हमारे इस टॉपिक को जरूर पढ़ना चाहिए क्योंकि इस टॉपिक में हमने टॉप 5 फुटबॉल tournament के बारे में बताया है जो कि दुनिया में काफी ज्यादा लोकप्रिय और मशहूर है तो दोस्तों बिना कोई देरी के चलिए अब इस टॉपिक को शुरू करते हैं और जानते है उन सभी मशहूर Football tournament के बारे मे।

1. FIFA World Cup

FIFA World Cup by the numbers - Marketplace

दोस्तों अगर हम फुटबॉल के सबसे बड़े और मशहूर टूर्नामेंट की बात करें तो ऐसा हो ही नहीं सकता है कि फुटबॉल के सबसे बड़े टूर्नामेंट FIFA World Cup के बारे मे बात ना हो क्योंकि यह सबसे बड़ा और सबसे मशहूर फुटबाल टूर्नामेंट में से एक है इसकी पॉपुलर थी पूरी दुनिया में बरकरार है सबसे शानदार और सबसे मनाया जाने वाला आयोजन फीफा है। FIFA का मतलब फेडरेशन इंटरनेशनेल डी फुटबॉल है जो हर 4 साल में होता है और इसमें दुनिया भर के खिलाड़ी हिस्सा लेते हैं। टूर्नामेंट में भाग लेने वाली टीमें पूरी दुनिया से  आती है और इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेती है।

यह FIFA World Cup वर्ष 1930 से खेला जा रहा है। यह फीफा वर्ल्ड कप हर 4 साल में एक बार खेला जाता है और टूर्नामेंट में ब्रेक लेने का एकमात्र समय द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान था  अब तक के सबसे ज्यादा कप जीतने वाली टीम ब्राजील टीम है जो कि  पाँच बार फीफा कप का खिताब जीत चुकी है।

2. UEFA European Championship

What is UEFA Euro Championship? | UEFA Euro 2020

FIFA World Cup कब के बाद दुनिया के सबसे बड़ा और सबसे मशहूर फुटबॉल टूर्नामेंट UEFA European Championship जोकि  दुनिया के  सबसे बेस्ट टूर्नामेंटों के लिए दूसरे स्थान पर है। यह UEFA European Championship अब तक के प्रसिद्ध फुटबॉल टूर्नामेंटों में से एक है यह फुटबॉल टूर्नामेंट हर 4 साल में होता है। और इस UEFA टूर्नामेंट में बहुत सारी राष्ट्रीय टीम इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेती है इस UEFA टूर्नामेंट की सबसे सफल टीम जर्मनी है जिसने कुल 12 यूईएफए यूरो खेले हैं जहां वे 6 बार फाइनल में गए थे और 3 बार जीत हासिल किये।

और इस UEFA European Championship टूर्नामेंट मे स्पेन का प्रदर्शन भी अच्छा है स्पेन इस टूर्नामेंट मे 10 बार टूर्नामेंट का हिस्सा थे और 4 बार फाइनल में रहे और 3 बार जीते। क्रिस्टियानो रोनाल्डो इस UEFA फुटबॉल टूर्नामेंट के सितारों में से एक है जहां उसने टूर्नामेंट में 9 गोल किए हैं। यह माइकल प्लाटिनी भी हैं जिन्होंने लीग में 9 गोल किए।

3. Copa America

Brazil says 31 Copa America players, officials test positive for COVID-19 |  Reuters

Copa America टूर्नामेंट दक्षिण अमेरिका में लोकप्रिय और दुनिया का टॉप 3 फुटबॉल टूर्नामेंट है। और साथ ही साथ या टूर्नामेंट पूरी दुनिया में भी काफी ज्यादा मशहूर है इस टूर्नामेंट को पूरी दुनिया में देखा जाता है और इसकी लोकप्रियता भी फुटबॉल प्रेमियों के बीच काफी ज्यादा है यह Copa America टूर्नामेंट 1916 में शुरू हुआ जो अब तक के सबसे पुराने टूर्नामेंटों में से एक है।

यह Copa America टूर्नामेंट दक्षिण अमेरिका में होने वाले सबसे बड़े टूर्नामेंटों में से एक है। इस Copa America टूर्नामेंट में भाग लेने वाले कुल 100 देश हैं अर्जेंटीना Copa America टूर्नामेंट में सबसे सफल पक्ष हैं। और 42 बार इस Copa America टूर्नामेंट को खेल चुके हैं। और उन्होंने 14 बार टूर्नामेंट भी जीता है।

4. AFC Asian Cup

When is the 2023 AFC Asian Cup Qualifying third round draw being held? |  Goal.com

AFC Asian Cup विश्व स्तर पर  भी काफी लोकप्रिय टूर्नामेंटों में से एक है, जिसकी उस समय बहुत बड़ी फैन फॉलोइंग है। टूर्नामेंट एशियाई फुटबॉल परिसंघ द्वारा शासित है। इस AFC Asian Cup टूर्नामेंट 1956 में शुरू हुआ।  AFC Asian Cup टूर्नामेंट 4 साल बाद होने वाला  फुटबॉल टूर्नामेंट है, हालांकि यह सिर्फ वर्ष 2007 में टूर्नामेंट 3 साल बाद हुआ था। इस AFC Asian Cup।टूर्नामेंट की सह-मेजबानी करने वाले केवल 4 राष्ट्र थे।

इस AFC Asian Cup की सबसे सफल टीमें जापान हैं जिन्होंने 4 बार टूर्नामेंट जीता है, और सऊदी अरब ने 3 बार टूर्नामेंट जीता है, और ईरान वह देश है जिसने तीन बार टूर्नामेंट जीता है।

5. FIFA Club World Cup

FIFA may delay Club World Cup to 2022 over COVID-19 | Daily Sabah

 FIFA Club World Cup टूर्नामेंट वर्ष 2000 में शुरू हुआ था जहां यह फेडरेशन इंटरनेशनेल डी फुटबॉल एसोसिएशन द्वारा आयोजित किया जाता है। FIFA Club World Cup लगातार चार वर्षों तक 2001-2004 तक नहीं हुआ। बाद में 2005 के कप की मेजबानी सुचारू रूप से चल रही थी, हालांकि, वर्ष 2021 के लिए इस FIFA Club World Cup टूर्नामेंट जापान में होगा।

टूर्नामेंट में शीर्ष पर रहने वाला देश स्पेन है जहां देश की टीमों ने लगातार 7 बार विजेता खिताब जीता है। और रियल मैड्रिड ने 4 बार टूर्नामेंट जीता जहां बार्सिलोना, और स्पेन ने भी इस FIFA Club World Cup खिताब को 3 बार जीता है।

इसके अलावा और भी बहुत सारे फुटबॉल टूर्नामेंट  है जो पूरी दुनिया में मशहूर है और उनको पूरी दुनिया में देखा जाता है  जैसे कि UEFA Champions League, EUFA Europa League,  FA Cup, Kings Cup, Italian Cup यह सभी फुटबॉल टूर्नामेंट भी  दुनिया में काफी ज्यादा मशहूर है और इन फुटबॉल टूर्नामेंट को लोग काफी देखना पसंद करते हैं।

तो यह थे दुनिया के कुछ मशहूर फुटबॉल टूर्नामेंट जो कि पूरी दुनिया में देखे जाते हैं और दोस्तों यदि आप फुटबॉल की है प्रेमी हो गया तो आपको इन सभी टूर्नामेंट के बारे में जरूर पता होगा क्योंकि यह सभी फुटबॉल टूर्नामेंट विश्व में काफी ज्यादा लोकप्रिय है।

[ Conclusion, निष्कर्ष ]

दोस्तो आशा करता हूं कि आपको मेरा यह लेख फुटबॉल खेल का इतिहास व उसके नियम (Football history rules Facts in hindi) आपको बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख के मदद से वह सभी जानकारी को पूरे विस्तार से समझ चुके होंगे जिसके लिए आप हमारे वेबसाइट पर आए थे। हमने इस लेख में सरल से सरल और आसान से आसान भाषा का उपयोग करके आपको फुटबॉल खेल का इतिहास व उसके नियम से जुड़ी सभी जानकारी देने की कोशिश की है क्योंकि इस आर्टिकल में हमने Football खेल के इतिहास लेकर फुटबॉल खेल के सभी नियम के बारे मे पूरा विस्तार से जाना है।

और यह भी बताया है कि फुटबॉल खेल का फोर्मेट क्या है इसके अलावा हमने इस आर्टिकल के अंत में दुनिया के 5 सबसे बड़े फुटबॉल टूर्नामेंट के बारे में बताएं जो पूरी दुनिया में मशहूर है और जिनको पूरी दुनिया में देखा जाता है दोस्तों यदि आप हमारी इस आर्टिकल को पूरा अंत तक होंगे तो हमें पूरा विश्वास है कि आपको फुटबॉल खेल का इतिहास व उसके नियम से जुड़ी पूरा जानकारी मिल गई होगी क्योंकि हमने एक एक शब्द को पूरा विस्तार से और गहराई से बताया है।

अगर दोस्तों आपको इस पोस्ट में कहीं भी कोई भी किसी भी तरह को,पढ़ने में या किसी भी चीज में कोई भी दिक्कत हुई होगी तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में बेझिझक कुछ भी सवाल पूछ सकते हैं।

हमारी समूह आपकी मैसेज के रिप्लाई जरूर देगी और आप यह भी कमेंट में जरूर बताएं कि फुटबॉल खेल का इतिहास व उसके नियम (Football history rules Facts in hindi) पर यह पोस्ट लगा ताकि हम आपके लिए दूसरे पोस्ट ऐसे ही लाते रहे। तो चलिए दोस्तों इसी जानकारी के साथ हम अब इस लेख को समाप्त करते हैं और अगर आपको हमरा यह पोस्ट को पढ़ने के लिए दिल से धन्यवाद………

Previous articleभारतीय अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा का जीवन परिचय | Rakesh Sharma biography in Hindi
Next articleमाउंट एवरेस्ट के बारे में जानकारी | Mount Everest Fact Information in hindi

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here