पानी की बचत व जल संरक्षण कैसे करे Save Water in Hindi

दोस्तों आज के इस आर्टिकल के मदद से हम पानी की बचत व जल संरक्षण कैसे करे Save Water in Hindi बारे में संपूर्ण जानकारी लेने वाले हैं। आपको तो पता ही होगा मुझे कोई बताने की जरूरत नहीं है कि पानी हमारे जीवन के लिए कितना महत्वपूर्ण है। ढेर सारे लोग इसके बारे में बहुत ज्यादा विचार विमर्श करते हैं कि क्यों ना पानी को सेव किया जाए क्योंकि आपको पता नहीं है ढेर सारे राज्य ऐसे हैं।

 जिनमें पानी की भयानक कमी के कारण लोग बहुत सारे परेशान होते हैं इसलिए ढेर सारे लोग पानी सेव करना चाहते हैं पर उनको मालूम ही नहीं होता कि वह पानी को कैसे बचाएं और जल संरक्षण कैसे करें। तो इसी समस्या को हम दूर करने के लिए आपके लिए इस लेख को लिखा है और आप इस लेख के मदद से आप आसानी से सरल भाषा मे जान पाएगा कि जल संरक्षण और जल को कैसे बचाएं तो चलिए शुरू करते हैं इस लेख को और जानते हैं पानी की बचत व जल संरक्षण कैसे करे Save Water in Hindi बारे में

हमे जल क्यों बचना चाहिए। ( why we save water in hindi )

दोस्तो क्या आपको पता है कि हम उस समय में जी रहे हैं जब की हमें स्वच्छ पेय जल को बचाने और अपने काम के और उपयोग के अनुसार ही  पानी की उपयोग करने की बहुत आवश्यकता है। भारत जैसे और कई अन्य देशों में कई अलग अलग जगहों पर लोग पानी की भारी कमी और पानी का अकाल का बहुत बड़ा रूप से सामना कर रहे हैं। उन्हें  काफी लंबी दूरी पर टैंकों या पानी की कुछ प्राकृतिक जलाशयों द्वारा या किसी सरकारी जलापूर्ति पर उन्हें पूर्ण रूप से निर्भर रहना पड़ता है। गाइस पीने के पानी की व्यवस्था करने के लिए उन्हें रोजाना लगभग बहुत लंबी दूरी तय करनी पड़ती है। 

और वे उन लोगों की तुलना में पानी का मूल्य को बहुत बेहतर ढंग से समझते हैं जिनके पास अपने  क्षेत्रों इलाका में पर्याप्त पानी की आपूर्ति होती है। आपको जान कर बहुत दुख होगा कि पानी की कमी की स्थिति उन सभी लोगों के लिए बहुत बड़ा और भयानक हो जाती है जिनके पास नहाने, धोने, यह तक पीने,  का पानी आदि की अपनी बुनियादी जरूरतों को पूरा करने के लिए  उनके पास पर्याप्त पानी नहीं होता है तो आप सोच सकते है कि वो लोग अपना गुजारा कैसे करते होंगे। 

आपको शायद ही मालूम होगा कि भारत आज दुनिया भर में पानी की बहुत भारी कमी का सामना करने वाले देशों में से एक ही  है। आपको पता ही होगा कि  भारत में राजस्थान और गुजरात और एक दो राज्यों के कुछ ऐसे हिस्सों में पानी की कमी का सामना  बहुत भयानक रूप में करना पड़ रहा है, जहां घरों की महिलाएं और छोटे बड़े लड़कियां और बच्चे पानी का एक बड़ा छोटा बर्तन में पानी लेने  लिए नंगे पैर किसी भी मौसम में काफी लंबी दूरी तय करती हैं।

मुझे आपको बताने की कोई जरूरत नही है कि भारत के बैंगलोर जैसे कुछ बड़े बड़े शहरों में आजकल के लोगों को रुपये से पानी की बोतलें खरीदनी पड़ती हैं और वह पानी लगभग 25 से रु. 30 तक साफ पानी पाइन के लिए मिलता है । आपको तो पता होगा कि  गर्मी के महीनों में बहुत से लोगों को पानी का और अधिक परेशानी का सामना करना पड़ता है जब पानी की दैनिक आवश्यकता काफी बढ़ जाती है।

 हाल ही में, कुछ लोगो के द्वारा यह अध्ययन किया गया है कि लगभग 26% शहरी आबादी के पास पाइन के लिए स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता का अभाव हो गया है। और कुछ क्षेत्रों में जल स्रोतों का निजीकरण पानी की बाहुत काफी कमी का मुख्य कारण हो चुका है इसी लिए हमे पानी की खपत अपने आवस्यकता अनुसार खर्च करना चाहिए।

पानी का बचत कैसे करे। (how to save water in hindi)

दोस्तो हमारे पास पानी बचाने के  कई सारे अलग अलग सरल तरीके है जिनका उपयोग हम अपने दैनिक जीवन के  आधार पर आराम से कर सकते हैं और प्रतिदिन बहुत सारे गैलन पानी बचा सकते हैं जो हमे आगे काम देगा। 

हमने आपके लिए पानी बचाने की तकनीकें निम्नलिखित तरीका बतलाया है जिनका आप उपयोग कर के बहुत सारे पानी की खपत को बड़े ही आसानी से बचा सकते है। 

दोस्तो जिनका उपयोग हमें घर के ढेर सारे अलग अलग अन्य स्थानों पर पानी को बचाने के लिए उपयोग करना चाहिए: हमें कम प्रवाह वाले शॉवर हेड्स नल  (जिसे  आम भाषा मे ऊर्जा-कुशल शावर हेड नल भी कहा जाता है), कम से कम फ्लश वाले शौचालय और जैसे कंपोस्टिंग शौचालय ( जिसे पारंपरिक पश्चिमी के बजाय) का हमे अपने घरों में अच्छे ढंग से इन सभ चीज़ों का उपयोग करना चाहिए। 

आप पुचंगे की शौचालय क्यो क्योंकि गाइस इसमे काफी बड़ी मात्रा में पानी का उपयोग किया जाता हैं। या दोहरी फ्लश जैसे शौचालय (यह दूसरों की तुलना में बहुत काफी कम पानी का उपयोग करता है और पानी का भी बचत होता है)। फेस वाश, बर्तन धोने हैंड वॉश,बाथरूम, टूथ ब्रश, आदि जैसे में पानी का उपयोग करते समय आपको बिना काम के समय नल को बंद रखना है। बारिश के मौसम में आपको बारिश के पानी को टॉयलेट फ्लश में अच्छे ढंग से इस्तेमाल करने के लिए उसे एक गजह पे  इकट्ठा करें, और ये सब के साथ ही साथ पौधों को भरपूर पानी दें, बगीचे में भी पानी छिड़कें आदि। और कच्चे पानी जैसे समुद्र का पानी या कसी का  गैर- शौचालय में शुद्ध पानी भी उतना अच्छा नही है। हमें अपशिष्ट जल को किसी भी तरह पुन: उपयोग या पुनर्चक्रण करने की आदत अवश्य डालनी चाहिए। 

हमें सभी प्रकार के जल संरक्षण के लिए उच्च से उच्च दक्षता वाले कपड़े धोने वाले, मौसम आधारित वॉश बेसिन में  पानी का कम प्रवाह वाले नल का उपयोग करे, सिंचाई को भी नियंत्रक करे , गार्डन में होज़ नोजल,  और स्विमिंग में पूल कवर का इस्तेमाल करे, स्वचालित नल आदि का उपयोग अच्छे से करके आप वर्षा के जल संचयन को बहुत अच्छे ढंग से बढ़ावा दे सकते है। लगभग   व्यावसायिक के सभी क्षेत्रों में भी पानी को बचाने की तकनीकों को को उच्च  प्राथमिकता दी जानी चाहिए क्योंकि किए एक बड़ा क्षेत्र है जहाँ दैनिक आधार पर बहुत सारे गैलन पानी आराम से बचाया जा सकता है। 

दोस्तो व्यावसायिक क्षेत्रों में पानी बचाने वाले सारी तकनीकें हैं जैसे पानी रहित मूत्रालय,वर्षा जल संचयन, पानी रहित कार वॉश, कूलिंग टॉवर कंडक्टिविटी कंट्रोलर,इन्फ्रारेड या फुट-ऑपरेटेड टैप, प्रेशराइज्ड वाटर झाड़ू, वाटर सेविंग स्टीम स्टेरलाइज़र (अस्पतालों और स्वास्थ्य देखभाल के लगभग सभी इकाइयों में), जल से जल ताप विनिमायक आदि जैसो पर काफी ध्यान देने की जरूरत है । कृषि क्षेत्र भी पानी के लिये एक बहुत बड़ा विशाल क्षेत्र है जहां हम जल के बचत  के आग अलग तकनीकों और तरीको का पालन करके दैनिक आधार पर काफी अधिक पानी बचा सकते हैं। 

गाइस हम फसल सिंचाई के लिए ऊपरी सिंचाई का उपयोग बड़े ही आराम से कर सकते हैं ( जैसे केंद्र-धुरी या पार्श्व-चलती जैसी तरीके से  छिड़काव का उपयोग करके), अपवाह, वाष्पीकरण या उपसतह जल निकासी आदि को काफी हद तक कम कर सकते हैं। हरी खाद का काफी मात्रा में उपयोग करके, फसल के अद्धिक अवशेषों के पुनर्चक्रण द्वारा,पशु खाद, मल्चिंग, आदि में भी बहुत अधिक सुधार होता है। मृदा कार्बनिक जैसे कई सारे पदार्थ जो मिट्टी की जल धारण शक्ति , क्षमता और पानी को अद्धिक रूप से अवशोषित करने की सभी क्षमता को फिर से बढ़ाता है। क्या आपको पता है कि( जब बरसात बारिश के दौरान)। 

जल के सभी बचत तकनीकों को  सभी सामाजिक और सामुदायिक स्तर पर नगरपालिका को जल के सभी उपयोगिताओं या उनके क्षेत्रीय सरकारों द्वारा आम से आम रणनीतियों के उपयोग करके माध्यम रूप  से काफी बढ़ावा दिया जाता है जैसे की मान लेते है कि सार्वजनिक आउटरीच अभियान पानी के उपयोग को काफी अधिक बढ़ाने के लिए उच्च से उच्च कीमत चुकाते हैं, बाहरी के सभी गतिविधियों के लिए किसी तरह का स्वच्छ पानी के उपयोग पर उन्हें प्रतिबंध जैसे लॉन में पानी देना फर्श की पानी से  सफाई, कार या अन्य गाड़ी की धुलाई आदि। 

लगभग बिजली की ही  तरह सभी के घरों में पानी की आपूर्ति  और सही उपयोग के लिए मेरे हिसाब से किसी तरह का यूनिवर्सल मीटरिंग होनी चाहिए। यह सुविधा केवल UK के कुछ अच्छे घरेलू क्षेत्रों और कुछ थोड़ा बहुत शहरी कनाडाई के घरों में काफी उपलब्ध है। क्या आपको पता है कि अमेरिकी पर्यावरण संरक्षण एजेंसी द्वारा आज कल यह अनुमान लगाया गया है।

कि पानी की पैमाइश और इकठा एक बहुत प्रभावी तकनीक है जो अकेले पानी की खपत को दैनिक आधार पर लगभग  25% से 45% तक आसानी से कम कर सकती है। दोस्तो कम सिंचाई को अपनाने वाली अधिक से अधिक  जल-कुशल फसलों के विकास को बेहतरीन ढंग से बढ़ावा दिया जाना चाहिए । और क्या आपको पता है कि केवल कृषि में फसल सिंचाई से ही दुनिया के लगभग 70 ताजे पानी की खपत होती है। तो आप इन सभी तरीकों को अपनाके काफी हद तक पानी बचा सकते है।

हमे जल संरक्षण क्यों करना चाहिए। (why we should conserve water in hindi)

अपने उपयोगिता बिल पर पैसे कम बचाने के अलावा भी, आप जल संरक्षण आसपास की झीलों, तलब, छोटे बड़े नदियों और  स्थानीय वाटरशेड में की काफी जल प्रदूषण को रोकने में बहुत मदद करता है। पानी का संरक्षण पानी के अलग अलग तरह के उपचार और वितरण से जुड़े ग्रीनहाउस  के ढेर सारे गैस को उत्सर्जन को भी रोकता बहुत तरीको से रोकता है। पानी का संरक्षण मिट्टी की संतृप्ति को कम करके और उसमे बहुत अद्धिक रिसाव के कारण होने वाले सभी  प्रदूषण को कम से कम करके आपके किसी तरह के सेप्टिक सिस्टम के जीवन को भी आराम से बढ़ा सकता है। 

और गाइस नगरपालिका के अच्छे  तरह से सीवर सिस्टम को बेहतरीन ढंग से ओवरलोड करने से भी अनुपचारित सीवेज छोटे बड़े झीलों और नदियों में जल प्रवाहित हो आसानी सकता है। इन सभी प्रणालियों से बहने वाले पानी की मात्रा जितनी ज्यादा कम होगी, उतनी ही जयदा ही प्रदूषण की भी संभावना उतनी ही कम होगी। कुछ समुदायों में, समुदाय-व्यापी घरेलू जल संरक्षण द्वारा काफी  महंगा सीवेज सिस्टम विस्तार से बचा गया है इसलिए दोस्तो जल संरक्षण करना ठीक होता है।दोस्तों मैंने जो आपको इस लेख में तरीका बताया है इस तरीका का आप अपने रोजाना जीवन में उपयोग करके बहुत ज्यादा पानी बचा सकते हैं और आगे के लिए पानी को सेव करके रख सकते हैं

जल संरक्षण कैसे करे। ( how to conserve water in hindi )

दोस्तों जल संरक्षण करना कोई बड़ी बात नहीं है आप थोड़ी बहुत अपने रोजाना जीवन को चेंज करके अच्छे से जल संरक्षण करके काफी ज्यादा पानी बचा सकते हैं। दोस्तो आप अपने दाँत को ब्रश करते समय कृपया कर के नल को बंद कर दें! पौधों को पानी देने के लिए  आप जयदा तर वाटरिंग कैन का उपयोग करें। फर्श को साफ करने के लिए बाल्टी का प्रयोग करें न कि पानी बर्बाद करने के लिए मोटर का उपयोग न करे। गाइस शॉवर में साबुन लगाते समय, कभी भी शॉवर टैप को बंद ही कर दें, वॉशिंग मशीन को पूरी अच्छे तरह से भर कर लोड करें, न कि आप उसे आधा भरा रहने दे । व्यंजन करने के लिए आप डिशवॉशर का उपयोग करना पसंद करते हैं तो ठीक है ! लेकिन हाथ से बर्तन धोते और मलते समय समय नल से पानी न बहने दें। 

कार को साफ करने के लिए आप बाल्टी, स्पंज और कपड़ा का इस्तेमाल ही करें! शौचालय पर सही पानी बचाने वाले बटन का अच्छे से प्रयोग करें! पानी पीते समय, हमारे पीने के फव्वारे का उपयोग करने का प्रयास अच्छे से करें जब आप नल से पीते हैं,  तो पानी पीने के बाद  नल को  अच्छे से बंद कर दें! खेल के मैदान या गार्डन  में आप पौधों को वाटरिंग कैन से पानी देने की कोसिस करे। गर्मियों में पानी के साथ ज्यादा न खेलें और अफवाह का खर्चा न करे। हमें अपने वर्षा जल का पुन: उपयोग करने का प्रयास करना चाहिए की उसका उपयोग फिर से करे। 

गाइस जब आप किसी एक गिलास से पानी पीते हैं तो केवल उतना ही पानी लें जितना आपको चाहिए बाद में उस पीने के लिए आपके द्वारा बचाए गए पानी का उपयोग फिर से कर सकते है । दोबारा जांचें कि बाथरूम से बाहर निकलते समय कही  नल पूरी तरह से बंद है। जब तक आपको जाने की आवश्यकता न हो, बाथरूम में न जाएं। टूटे हुए शौचालयों और टपके हुए नलों को ध्यान दे कर के  ठीक करें। छोटी बौछारें लें। बर्तन धोते समय पानी को अच्छे से बंद कर दें। कूड़ा निस्तारण का प्रयोग संयम से आप करें। 

इसके बजाय, अपेन सब्जी खाद्य और काफी अपशिष्ट खाद और आप इस तरह से हर बार बहुत गैलन पानी बचा सकते है। अपने किचन सिंक के पास एक अच्छे इंस्टेंट वॉटर हीटर स्थापित करें ताकि गर्म होने पर आपको पानी न चलाना पड़े और उसका उपयोग कम कर । इससे आपकी ऊर्जा की लागत भी काफी कम होती है। शौचालय लीक भी चुप हो सकता है! वर्ष में कम से कम एक बार लीक के लिए अपने शौचालय का परीक्षण किसी प्लम्बर के द्वारा अवश्य करें। इस तरह से आप जल संरक्षण कर सकते है।

  [ Conclusion, निष्कर्ष ]

दोस्तो आशा करता हूं कि आपको मेरा यह लेख पानी की बचत व जल संरक्षण कैसे करे Save Water in Hindi आपको बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख के मदद से इसके बारे में सारे चीज विस्तार से समझ गए होंगे। और आप पानी के कीमत को भी समझ गए होंगे क्योंकि आपको पता नहीं होगा कि आज कितने लोग पानी के तंगी से कितने भयंकर रूप से भीड़ रहे हैं उनके पास नहाने कपड़ा धोने और पीने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं है इसलिए आप कृपया करके पानी को बचाएं और अपने उपयोग से अधिक खर्च ना करें। अगर दोस्तों मेरे द्वारा लिखा गया इस पोस्ट में कहीं भी कोई भी किसी भी तरह का परेशानी हो या कहीं भी आपको कुछ समझ में ना आए तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में बिना कोई भी दिक्कत परेशानी के सीधा मैसेज करके सवाल पूछ सकते हैं हमारी समूह आपकी किसी भी सवाल का उत्तर देनी की कोसिस जरूर करेगी।

Previous articleदुनिया का सबसे अच्छा बिजनेस कौन सा है? ( 10+ business ideas in Hindi )
Next articleहींग के फायदे और नुकसान | Benefits of Asafoetida in Hindi | Asafoetida Meaning in Hindi

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here