QR code क्या है, और इसकी विशेषता , नमस्कार दोस्तों अपने कभी न कभी QR code का नाम जरूर सुना होगा और यदि आप ध्यान दे जब कभी भी आप किसी product buy करते है, उसके पैकेट पर क्यूआर कोड या Bar कोड जरूर देखें होंगे. आज कल देखा जाये तो QR code को बहुत सारे लोग उनके विजिटिंग कार्ड, और अपने दुकान के आगे लगाते हैं.

अब आपके मन में प्रश्न उठता होगा की आखिर ‘क्या होता है QR code’, और यह कैसे काम करता है. तो दोस्तों आज की इस post में हम इसके बारे में जानने वाले हैं, QR code क्या है, QR code को कौन बनाया था और QR code के इस्तेमाल से हमें क्या फायदा है, दोस्तों यदि आप इसके बारे में जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें ताकि आपको इसके बारे में एक अच्छा ज्ञान हो जाए.

QR code(Quick Response Code) क्या है.

QR code जिसका पूर्ण रूप है Quick Response Code, यह एक प्रकार का मशीन-पठनीय ऑप्टिकल code होता है. जिसमें किसी विशेष किसी item से संबंधित जानकारी जुड़ी हुई होती है. यह जानकारी “Hypertext” के रूप में होती है. जिसे QR code रीडर द्वारा पढ़ा जाता है.

QR code को हम bar कोड का अपग्रेडेड वर्जन कह सकते हैं. क्यों की यह एक प्रकार का 2D (Two Dimensional) code है. और barcode एक one dimensional code है. जिसमे कई सारे Vertical Lines होते हैं.

देखा जाये तो हम Barcode में काफी काम storage होता है. वही हम QR code में उसने 350% गुना ज्यादा storage होता है.

QR code(Quick Response Code) को यदि हम ध्यान से देखें तो हम पाते हैं कि Qr code एक बॉक्स की तरह दिखता है, और इसके बॉक्स के अंदर भी बहुत सारे छोटे-छोटे बॉक्स बने होते हैं.

QR code का आविष्कार कब हुआ

QR code एक प्रकार की उन्नत तकनीक है, जिसकी मदद से आप अपने किसी भी प्रकार के डाटा को जैसे:- Contact No, Photo, Document, Message, Link इत्यादि जैसी चीजों को encrypted करके स्टोर कर सकते हैं और किसी भी यूजर को भेज सकते हैं. QR code के आविष्कार के बारे में बात करें तो QR code barcode का अपग्रेडेड वर्जन है, जिसका आविष्कार 1994 में हुआ था.

QR code कैसे काम करता है.

दोस्तों हमने आपको ऊपर बताया कि QR code barcode का अपग्रेडेड वर्जन है, QR code का इसलिए आविष्कार हुआ क्योंकि हम barcode में ज्यादा datastore नहीं कर सकते थे वही हम QR code में ज्यादा data store कर सकते हैं 

QR code यह भी सबसे बड़ी विशेषता है कि यदि QR code में कोई खरोच भी आ जाए तो आप उसे काफी हद तक आप Read कर सकते हैं,  पर Barcode के साथ ऐसा नहीं है यदि उनमें खरोंच आ जाए तो उसको read करना नामुमकिन है.

तो आइए दोस्तों हम आपको बताते हैं कि क्यूआर कोड कैसे काम करता है

यदि हम QR code को ध्यान से देखे तो हम पाते हैं QR code के साइड में 3 बड़े-बड़े box बने होते हैं ये जो box होते है यह ये दर्शाते हैं की उनकी एलाइनमेंट कैसा है। मतलब आप मोबाइल में QR code को किसी भी साइड से स्कैन करोगे तो आपको उसके रिजल्ट दिखेगा

QR code को कौन बनाया था.

QR code के आविष्कार के बारे में बात करें तो के बारकोड का आविष्कार 1994 में हुआ था. क्यूआर कोड को जापानी कंपनी द्वारा तैयार किया गया था इस कंपनी का नाम है Denso Wave जो एक जापान की एक कंपनी है। Denso Wave कंपनी के एक Engineer Hara Masahiro इसका आविष्कार किए थे.

क्यूआर कोड का सबसे पहले इस्तेमाल Automobile पार्ट्स का हिसाब रखने के लिए किया जाता था लेकिन आज के समय में देखा जाए तो हर एक प्रोडक्ट पर आपको क्यू आर कोड देखने को मिल जाएगा.

QR codeBarcode
QR code का आविष्कार 1994 में हुआ था.Barcode का आविष्कार 1948 में हुआ था.
इसमें हम किसी भी प्रकार का data store phone number, audio, video, message इत्यादिइसमें हम बस numeric डेटा को ही store कर सकते हैं.
QR code, barcode के तुलना से 350 गुना से ज्यादा storage store कर सकता है.Barcode इसका storage capacity कम होता है।

QR Code से फायदा 

आइए दोस्तों हम आपको QR Code से होने वाले फायदों के बारे में विस्तार से जानकारी देते हैं

  • QR Code की मदद से अपना मोबाइल नंबर किसी को आसानी से शेयर कर सकते हैं.
  • यदि आप चाहते हैं कि, आपके WIFI का पासवर्ड कोई नहीं जाने तो आप QR Code के माध्यम से पासवर्ड शेयर कर सकते हैं.
  • QR Code की मदद से आप आसानी से किसी को पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं और पैसे ले भी सकते हैं. 

अंतिम शब्द 

आशा करते हैं दोस्तों कि हमारे द्वारा लिखी हुई है पोस्ट “QR code क्या है, और इसकी विशेषता” आपको पसंद आई होगी तथा इसके बारे में आपको एक अच्छी जानकारी मिली होगी यदि आपको यह पोस्ट पसंद आया है तो अपने दोस्तों में शेयर करें और इस पोस्ट से संबंधित कोई भी सुझाव आपके मन में हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर दें.

Previous articleओट्स क्या है? और ओट्स और दलिया में अंतर | What is Oats in Hindi and Benefits, Uses, difference in Hindi
Next articlePhoto का Background change करने वाला Top 5 App

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here