Swing Trading क्या है. Swing Trading कैसे करे?

नमस्कार दोस्तों क्या आप हमारी इस ब्लॉग पर Swing Trading के बारे में जानने आए हैं, यदि आपका जवाब है हां तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं आज की इस पोस्ट में हम इसी के बारे में आपको शुरू से लेकर अंत तक अच्छे से जानकारी देने वाले हैं कि, Swing Trading kya hai. Sawing Trading kaise kare और भी बहुत सारी जानकारियां Swing Trading के बारे में.

यदि आप चाहते हैं शेयर मार्केट में कम से कम समय में ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाना तो आपके लिए Swing Trading बहुत सही option रहेगा Swing Trading से आप कम से कम समय में अच्छा पैसा कमा सकते हैं.

लेकिन दोस्तों सबसे पहले आपको Swing Trading के बारे में एक अच्छी जानकारी होनी चाहिए ताकि आप Swing Trading से पैसे कमा सके यदि आपके पास जानकारी नहीं है तो आप पैसे गवां भी सकते हैं. 

स्विंग ट्रेडिंग कैसे करें ? Swing Trading Kya Hai?

Swing Trading की बात करें तो यह Intraday Trading और Scalping Trading से बिल्कुल अलग होता है क्योंकि जो share आप Intraday और Scalping Trading में buy करते हैं उस share को आपको उसी दिन के अंदर है sell कर देना होता है.

आप जब intraday और Scalping में ट्रेडिंग करते हैं तो आपको एक ही दिन के अंदर ही शेयर को खरीदने तथा बेचने का काम करना होता है.

लेकिन यदि आप Swing Trading करते हैं तो इसमें ऐसा नहीं होता इसमें आपको जो share अच्छा लगता है और आपको लगता है यह share हमे अच्छा profit देगा उसे आप buy कर लेते हैं और जब share का प्राइस बढ़ता है तो उसे sell कर देते हैं.

मतलब यदि हम Swing Trading कर रहे हैं तो हमें ऐसा नहीं है कि, हमें एक ही दिन के अंदर share को buy और sell करना है हम जब चाहे share को खरीद सकते हैं और जब चाहे share को सेल कर सकते हैं.

Swing Trading Kaise Kare?

यदि आप Swing Trading करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको Swing Trading के बारे में अच्छे से जानना होगा उसकी Strategy को समझना होगा.

तो आइए दोस्तों हम इसके Strategy के बारे में तो आइए दोस्तों हम आपको Swing Trading के Strategy के बारे में आपको अच्छे से समझाते हैं.

Swing Trading Strategy in Hindi?

दोस्तों Swing Trading करने के लिए आपको सबसे पहले ऐसे शेयर का चुनाव करना होगा जिसके share की कीमतों में उतार-चढाव ज्यादा हो

इसके लिए आपको हर दिन शेयर मार्केट का न्यूज़ को पढ़ना होगा ताकि आपको हर एक कंपनी के शेयर के बढ़ते और घटते दामों के बारे में अच्छे से जान सके.

उदाहरण के लिए मान लीजिए (enter your site name) एक कंपनी है, और हमें पता चला की 10 दिन के बाद (enter your site name) company के share का price शेयर बढ़ेगा तो हम आज की डेट में (enter your site name) company का ज्यादा से ज्यादा share buy करने का प्रयास करें ताकि 10 दिन के बाद हमें एक अच्छा प्रॉफिट हो सके.

या हमें पता चला कि आज के दिन (enter your site name) के share का price बहुत कम होगा और दो-तीन दिन बाद इसका price बढ़ जाएगा तो आज की डेट में हम इस कंपनी का share खरीद लेंगे और दो-तीन दिन बाद जब इस company के share का प्राइस बढ़ेगा तो इसे बेच देंगे.

Mutual Fund Kya Hai

Swing trading ko smjhe

Swing trading को करने के लिए सबसे पहले हमे share को खरीदना होगा share को खरीदने के लिए आपको सबसे पहले ट्रेडिंग अकाउंट में जाकर share को buy करने का order लगाना होगा

मान लीजिए आप किसी कंपनी का Swing trading के लिए share buy कर रहे हैं जिस कंपनी का फिगर का प्राइस आज की डेट में ₹150 है और आपको लगता है तीन-चार दिन बाद इस कंपनी के शेयर का प्राइस ₹160 हो जाएगा

तो आप इस कंपनी के 100 शेयर buy करने का आर्डर लगा देते हैं जिसकी कुल कीमत ₹15000 होगा

और तीन-चार दिन बाद जब इस कंपनी के शेयर का प्राइस ₹160 हो जाता है तो आप इस कंपनी के शेयर को बेच देते हैं इस शेयर को बेचने पर आपको कुल ₹16000 मिलता है

तो दोस्तों हम इसका फायदा निकालना होगा तो हम इस प्रकार फायदा निकाल सकते हैं.

शेयर sell करने का प्राइस – शेयर buy करने का प्राइस

16000-15000 = 1000

तो दोस्तों हमें इससे पता चलता है कि इस ट्रेडिंग में हमें ₹1000 का फायदा हुआ है.

अंतिम शब्द

आशा करते हैं दोस्तों कि हमारे द्वारा लिखी हुई यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी तथा इसके बारे में आपको शुरू से लेकर अंत तक एक अच्छी जानकारी मिली होगी

Previous articleIFSC Code क्या है? किसी भी बैंक का ifsc code कैसे निकले?
Next articleइंट्राडे trading क्या है इसके बारे में जाने.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here