नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप लोग आशा करता हूं आप बिल्कुल ठीक होंगे आपका हार्दिक स्वागत है हमारे इस लेख में आज के इस लेख की मदद से हम भारतीय अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा का जीवन परिचय | Rakesh Sharma biography in Hindi बारे में संपूर्ण जानकारी पूरे विस्तार से प्राप्त करने वाले हैं और इसके बारे में जानने भी वाले हैं। दोस्तों आपने बड़े-बड़े लोगों का जीवन परिचय तो जरूर सुना होगा और उनके बारे में पढ़ा भी होगा मगर आज हम एक ऐसे व्यक्ति के जीवन परिचय के बारे में बात करने वाले हैं ।

जिन्होंने भारत का नाम काफी रोशन किया है और वह अंतरिक्ष में जाने वाले पहले भारतीय बन चुके हैं जी हां दोस्तों हम बात कर रहे हैं राकेश शर्मा जिन्होंने एक सफल अंतरिक्ष यात्रा की। उस अंतरिक्ष यात्रा के दौरान इनके साथ दो और यात्री थे हम उनके बारे में भी थोड़े बहुत इस लेख में पढ़ेंगे तो दोस्तों राकेश शर्मा एक भारत के ही रहने वाले व्यक्ति हैं जिन्होंने अंतरिक्ष की यात्रा की है और कई सारे लोग ऐसे हैं जो राकेश शर्मा के बारे में जानना चाहते हैं और उनकी जीवनि को पढ़ना चाहते हैं इसीलिए हमने इस लेख को लिखा है।

और इस लेख में बताया है कि राकेश शर्मा कौन है और राकेश शर्मा ने अपनी शिक्षा कहां से पूरी की है और राकेश शर्मा के व्यक्तिगत जीवन के आ रहे हैं और राकेश शर्मा की केरियर क्या रहे हैं और राकेश शर्मा की निजी जीवन क्या रही है इन सभी बातों को हमने इस लेख में स्टेप बाय स्टेप करके लिखा है ।

और आप को समझाने की कोशिश की है ताकि आप अच्छे से राकेश शर्मा बारे में समझ सके अगर आप सच में राकेश शर्मा की जीवनी को पढ़ना चाहते हैं तो आप से मेरा यह अनुरोध है कि मेरे इस लेख को ध्यान से पूरे अंत तक पढ़े तभी आपको मेरा यह लेख अच्छे से समझ में आएगा तो चलिए शुरू करते हैं इस लेख को बिना देरी किए हुए

बुधिया सिंह का जीवन परिचय | Budhia Singh biography in hindi

राकेश शर्मा कौन है ?

Rakesh Sharma Age, Biography, Wiki, Caste, Family, Accolades|BioWiki

दोस्तों अगर आपके मन में यह ख्याल है कि आखिर राकेश शर्मा कौन है तो आप हमारे इस टॉपिक के साथ अंत तक बने रहिए क्योंकि हम इस टॉपिक में आपको बताएंगे कि राकेश शर्मा कौन है तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राकेश शर्मा एक ऐसे व्यक्ति हैं जिन्होंने अंतरिक्ष में यात्रा किया है और वो पेशे से भारतीय एयर फ़ोर्स पायलट भी थे।

दोस्तों  इनका पूरा नाम राकेश शर्मा ही है। अगर हम राकेश शर्मा जी की जात यानी कि ( Caste )की बात करें तो राकेश शर्मा जात से ब्राम्हण थे। क्या आपको मालूम है कि राकेश शर्मा पहले भारतीय थे जो अन्तरिक्ष गए थे। तो चलिए दोस्तों अगले टॉपिक की ओर बढ़ते हैं और राकेश शर्मा से जुड़े कुछ और जानकारी को प्राप्त करते हैं।

राकेश टिकैत जीवन परिचय | Rakesh Tikait Biography in Hindi (Father, Caste, Family)

राकेश शर्मा का प्रारंभिक जीवन (Rakesh Sharma early life in hindi )

10 Facts About Astronaut Rakesh Sharma, The First Indian To Go To Space

दोस्तों इस टॉपिक के मदद से हम राकेश शर्मा के प्रारंभिक जीवन से जुड़ी कुछ जरूरी बातों के बारे में विचार विमर्श करने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा का जन्म हमारे देश भारत के राज्य पंजाब के पटियाला में तारिक 13 महीना जनवरी शाल 1949 को हुआ था। अगर हम उनकी माता के बारे में बात करे तो उनकी माता जी का नाम तृप्ता शर्मा है और उनके  पिता जी का नाम देवेन्द्र शर्मा था ।

 राकेश शर्मा के जन्म के थोड़े समय बाद ही उन के माता पिता आन्ध्र प्रदेश के हैदराबाद शहर में कही पर रहने के लिए चले गए। यहीं पर पढाई के लिए राकेश शर्मा का दाखिला यानी कि एड्मिसन  ( Saint George Grammar School ) सेंट जॉर्ज ग्रामर स्कूल में कराया दिया गया था। स्कूली और शुरुवाती शिक्षा को अच्छे तरह से प्राप्त करने के पश्चात राकेश शर्मा ने बेहतर तरह के  स्नातक की पढाई लिखाई के लिए हैदराबाद में स्थित उस्मानिया विश्वविद्यालय में अपना एडमिसन भी करा लिया था।

स्नातक की पढाई के दौरान ही शाल 1966 में उनका चयन  (NDA) यानी कि राष्ट्रीय सुरक्षा अकादमी में हुआ और वे NDA के ट्रेनिंग के लिए भी चले गए थे और अपना पूरा ध्यान और लगन से ट्रेनिंग की । तो दोस्तों कुछ इस तरह से ही राकेश शर्मा का प्रारंभिक जीवन की शुरुआत हुई थी तो चलिए दोस्तों अगले टॉपिक की ओर बढ़ते है और राकेश शर्मा से जुड़ी कुछ और नए जानकारी को प्राप्त करते है।

Nathuram Godse Biography in Hindi

राकेश शर्मा का कैरियर (Rakesh Sharma career in hindi)  

10 lesser known facts about Rakesh Sharma | NewsTrack English 1

दोस्तों इस टॉपिक के मदद से हम राकेश शर्मा के career के बारे में कुछ जानकारी प्राप्त करने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि

कई सारे लोगो द्वारा कहा जाता है कि राकेश शर्मा को बचपन से ही विज्ञान के विषयों से काफी रुचि रखते थे। दोस्तों क्या आपको मालूम है कि स्कूल के दिनों से ही वे electronics में दिलचस्पी दिखाने लगे थे। हम आपके बेहतर जानकारी के लिए बता दे कि एक कैडेट के तौर पर राकेश शर्मा ने राष्ट्रीय सुरक्षा अकादमी की कठिन ट्रेनिंग को पूरे तरह से पूरा करने के पश्चात,

 जब शाल 1970 में राकेश शर्मा को एक जाबाज भारतीय  वायु सेना में बतौर टेस्ट पायलट की ट्रेनिंग देने के बाद उन्हें भर्ती किया गया तो उनकी मन की लगभग सभी मुराद पूरी हुई।

उनके काबिले तारीफ़ काम पर भारतीय वायु सेना में लड़ाकू विमान उड़ाने की योग्यता बहुत जल्दी ही प्राप्त हुई और उनका बेहतर प्रदर्शन करने का उन्हें मौका बहुत कठिनाई से जल्दी ही मिल गया। तकरीबन शाल 1971 के पाकिस्तान और भारत के भीषण युद्ध के दौरान उन्होंने युद्ध के मैदान में मिग हवाई विमान का सम्पूर्ण तरह से सफलतापूर्वक संचालन कर के अपनी काबिले तारीफ़ योग्यता को लोगो के बीच साबित किया था ।

दोस्तों क्या आपको मालूम है कि अपनी योग्यता की बदौलत उन्होंने लगभग शाल 1984 में राकेश शर्मा भारतीय वायु सेना में स्क्वाड्रन लीडर  के बड़े पद तक पहुंचे पाए। इसी बीच तारिक 20 महीना सितम्बर  शाल 1982 को राकेश शर्मा का चुनाव एक और भारतीय नागरिक जिनका नाम रवीश मल्होत्रा है उन के साथ ही भारत और सोवियत संघ के एक संयुक्त अंतरिक्ष अभियान के लिए भी किया गया। दोस्तों क्या आपको मालूम है कि इस अभियान के तहत दोनों में से किसी एक को अंतरिक्ष यात्रा का बेहतरीन मौका मिलने वाला था।

दरअसल, भारत के अंतरिक्ष विज्ञान संगठन ‘ISRO’ और सोवियत संघ के ‘इन्टरकॉसमॉस’ के इस संयुक्त अभियान के तहत अंतरिक्ष का अध्ययन करने के लिए दोनों देशों के कुल तीन अंतरिक्ष यात्री मनुष्य को अंतरिक्षयान द्वारा अंतरिक्ष में जाना था।

लगभग तीन अंतरिक्ष यात्रियों में से दो सोवियत संघ से और एक भारत से चुने जाने थे. बहरहाल, भारत से नामित दोनों लोगों में से एक का नाम राकेश शर्मा है  और दूसरे ब्यक्ती का नाम रवीश मल्होत्रा है और यात्रा पहले प्रशिक्षण के लिए सोवियत संघ के कज़ाकिस्तान स्थित अंतरिक्ष स्टेशन बैंकानूर भेजा गया।

इस प्रशिक्षण में राकेश शर्मा अव्वल रहे और अंतिम तौर पर वह उनका चुनाव में अंतरिक्ष यात्रा के लिए कर लिया गया। फिर तारिक 2 महीना अप्रैल शाल 1984 का वह एक ऐतिहासिक दिन आया जब राकेश शर्मा ने तकरीबन दो सोवियत अंतरिक्ष यात्रियों फ्लाइट इंजीनियर जी एम स्त्रोक्लोफ़ और कमांडर वाई वी मलिशेव के साथ अंतरिक्षयान (CUJ) सोयुज टी-11  में सुदूर अंतरिक्ष के लिए उड़ान पृथ्वी से उड़ान भरा । पृथ्वी से उड़ान भरने के बाद तीनों अंतरिक्ष की यात्री सफलतापूर्वक अंतरिक्ष में सोवियत संघ द्वारा स्थापित किया गया ऑर्बिटल स्टेशन सोल्युज-7 में अच्छे से  पहुंच गए।

इस ऐतिहासिक अंतरिक्ष मिशन के साथ ही साथ भारत अंतरिक्ष में मनुष्य को भेजने वाला विश्व का 14वा (14th) देश बन गया। राकेश शर्मा ने अंतरिक्ष में तकरीबन 8 दिन  (7 दिन 21 hours और 40 minutes) बिताए थे। इस दौरान इस अंतरिक्ष दल ने तकनीकी और वैज्ञानिक अध्ययन से संबंधित लगभग 33 प्रयोग किए। राकेश शर्मा को विशेष तौर पर बायो-मेडिसिन ( BIO- medicine)और रिमोट सेंसिंग के अच्छी संबंध में काफी अच्छे ढंग से अध्ययन करने की जिम्मेदारी मिली थी।

दोस्तों क्या आपको मालूम है कि अंतरिक्ष यात्रा के दौरान संयुक्त दल ने मास्को के सोवियत संघ के ढेर सारे अधिकारीयों के साथ मिल कर के भारत के नई दिल्ली में हमारे देश के तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी के साथ एक संयुक्त बात चीत भी की।

गाइस इसी बात-चित के दौरान इंदिरा गाँधी ने राकेश शर्मा से एक मजेदार सवाल पूछा था –सवाल  ‘अंतरिक्ष से भारत कैसा दिखता है?’ श्री मती गाँधी के मजेदार सवाल का जबाव भी राकेश शर्मा ने बड़े  मजेदार अंदाज में दिया –उतर ‘सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा…’. तो दोस्तों उसी समय देश के अख़बारों में इंदिरा गाँधी और राकेश शर्मा के बीच का यह बात-चीत भी चर्चा का विषय बन गया था।

हालाँकि क्या आपको मालूम है कि उस समय खबर यह भी थी कि कुछ धार्मिक तरह के कट्टरपंथी समूहों ने राकेश शर्मा के अन्तरिक्ष यात्रा पर  जाने से नाखुशी भी जाहिर की थी। मगर हम आपको बता दे कि इस के समर्थन में उन कट्टरपंथी समूहों का कहना था कि पवित्र ग्रहों पर इंसान का जाना हमारे धर्म के विपरीत यानी कि उल्टा है मना है।

परन्तु विज्ञान के क्षेत्र यानी कि फील्ड में प्रगति के लिए कशमकश करते भारतीय जनमानस ने उन सभी कट्टरपंथियों समूहों के विचारों को नकारते हुए उन की आवाज को अनसुना कर राकेश शर्मा की उपलब्धि पर जश्न मनाना बेहतर समझा।

दोस्तों कुछ इस तरह से राकेश शर्मा जी की कैरियर की शुरुआत हुई और उन्होंने इतना बड़ा मुकाम पर पहुंचा और अंतरिक्ष की यात्रा की तो चलिए दोस्तों अगले टॉपिक की ओर बढ़ते है और राकेश शर्मा से जुड़ी कुछ और नए जानकारी को प्राप्त करते है।

अटल बिहारी वाजपेयी जीवनी | Atal Bihari Vajpayee biography in hindi

राकेश शर्मा की शिक्षा दीक्षा

Rakesh Sharma Wiki, Age, Wife, Family, Biography & More – WikiBio

 दोस्तों इस टॉपिक के मदद से हम राकेश शर्मा की शिक्षा दीक्षा के बारे में बात करने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राकेश शर्मा ने अपनी सैनिक शिक्षा को हमारे देश भारत के हैदराबाद की उस्मानिया यूनिवर्सिटी ( Osmania University ) से ग्रेजुएशन किया था। उनका एक सपना था कि वे एक पायलट बनना चाहते थे।

क्या आपको मालूम है कि भारतीय वायु सेना द्वारा राकेश शर्मा ने टेस्ट पायलट भी चुन लिए गए थे, लेकिन ऐसा शायद ही किसी बेयक्ति ने सोचा होगा कि वे भारत के पहले अंतरिक्ष यात्री करने वाले ब्यक्ती बनेंगे। तारिक 20 महीना सितम्बर, शाल 1982 को ‘भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन’ (इसरो) (ISRO) ने उन्हें सोवियत संघ (उस वक्त) की अंतरिक्ष एजेंसी इंटरकॉस्मोस के अभियान के लिए चुन लिया। और उन्होंने अंतरिक्ष की यात्रा भी की ।

तो दोस्तों कुछ इस तरह से राकेश शर्मा ने अपनी शिक्षा दीक्षा की पूर्ति की और लगातार आगे बढ़ते गए और उन्होंने अपने लक्ष्य को अपना जीवन माना और वह लक्ष्य तक पहुंच गए तो चलिए अगले टॉपिक की ओर बढ़ते हैं और राकेश शर्मा के बारे में कुछ और नई जानकारी प्राप्त करते हैं।

दिनेश शर्मा का जीवन परिचय | Dinesh Sharma Biography in hindi

राकेश शर्मा के पुरस्कार और सम्मान

Ashoka Chakra awardee - Meet Rakesh Sharma, man who took India to space |  The Economic Times

दोस्तों इस टॉपिक के मदद से हम जानने वाले हैं कि राकेश शर्मा जी को कितने पुरस्कार मिले हैं और किस तरह से उन्हें सम्मानित किया गया है तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए हम आपके जानकारी के लिए बता दें कि राकेश शर्मा को अंतरिक्ष यात्रा से लौटने पर सोवियत संघ के द्वारा उनको नायक के सम्मान से सम्मानित कर के उनकी प्रसंशा किया गया था।

वह एक मात्र भारतीय बेयक्ति हैं जिन्हें यह सम्मान दिया गया है । भारत ने अपने सर्वोच्च पीकटाइम वीरता पुरस्कार, अशोक चक्र,  उन पर और उन के मिशन के दो सोवियत सदस्यों और दोनों अंतरिक्ष यात्रियों को , माल्यशेव और स्ट्रेकालोव को भी बहुत बेहतरीन तरह से सम्मानित किया।

तो दोस्तों कुछ इस तरह से राकेश शर्मा और उनके दो अंतरिक्ष साथियों को पुरस्कार भी दिया गया था और काफी अच्छी तरह से उनको सम्मानित भी किया गया था।

Mary Kom Biography in Hindi | मैरी कॉम का जीवन परिचय

 [ Conclusion, निष्कर्ष ]

दोस्तो आशा करता हूं कि आपको मेरा यह लेख आपको भारतीय अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा का जीवन परिचय | Rakesh Sharma biography in Hindi बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख के मदद से वह सभी जानकारी को पूरे विस्तार से समझ चुके होंगे जिसके लिए आप हमारे वेबसाइट पर आए थे।

हमने इस लेख में सरल से सरल भाषा का उपयोग करके आपको राकेश शर्मा के जीवन से जुड़ी हर एक बात बताने की कोशिश की है क्योंकि हमें मालूम है कि कई सारे लोग हैं जो जानना चाहते हैं कि राकेश शर्मा कौन है।

और राकेश शर्मा ने अपनी शिक्षा कहां से पूरी की है और राकेश शर्मा के व्यक्तिगत जीवन के आ रहे हैं और राकेश शर्मा की केरियर क्या रहे हैं और राकेश शर्मा की निजी जीवन क्या रही है इन सभी बातों को हमने इस लेख में स्टेप बाय स्टेप करके लिखा है और आप को समझाने की कोशिश की है ताकि आप अच्छे से इसके बारे में समझ सके आप सभी पर मेरा संपूर्ण विश्वास है कि आप सभी मेरे इस लेख को ध्यान से पूरे अंत तक पढ़ चुके होंगे और राकेश शर्मा से जुड़ी सभी जानकारी को प्राप्त कर चुके होंगे।

अगर दोस्तों आपको इस पोस्ट में कहीं भी कोई भी किसी भी तरह को,पढ़ने में या किसी भी चीज में कोई भी दिक्कत हुई होगी तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में बेझिझक कुछ भी सवाल पूछ सकते हैं।

हमारी समूह आपकी मैसेज के रिप्लाई जरूर देगी और आप यह भी कमेंट में जरूर बताएं कि भारतीय अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा का जीवन परिचय पर यह पोस्ट लगा ताकि हम आपके लिए दूसरे पोस्ट ऐसे ही लाते रहे। तो चलिए दोस्तों इसी जानकारी के साथ हम अब इस लेख को समाप्त करते हैं और अगर आपको हमरा यह पोस्ट को पढ़ने के लिए दिल से धन्यवाद………

Mahatma Gandhi biography in Hindi

Previous articleEverything You Need To Know About Web 3.0
Next articleफुटबॉल खेल का इतिहास व उसके नियम | Football History, Rules, Facts in hindi

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here